कर्नाटक में हुई BJP की हार के बाद, अन्य पार्टियों के बड़े नेताओं किये BJP पर वार

कर्नाटक के नाटक का अंत होने के बाद, कोंग्रेस के कार्यकर्ताओं और नेताओं में एक प्रकार का जोश दिखाई दे रहा हैं। BJP के ‘कोंग्रेस मुक्त भारत’ अभियान पर रोक लगाने के बाद और कर्नाटक का गढ़ JDS के साथ हाथ मिलाकर रखने के बाद, कोंग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने बयान में कहा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी सरकार सिर्फ और सिर्फ भ्रष्टाचार को बढ़ावा दे रही हैं। मोदी जी एक तरह से खुद भ्रष्टाचार का दूसरा रूप है। साथ ही उन्होंने कहा कि, BJP ने इस चुनाव में हर प्रकार से कोंग्रेस और JDS के विधायकों को खरीदने की कोशिश की, मगर वो कुछ हासिल नहीं कर पाए।

कोंग्रेस अध्यक्ष के इस बयान पर BJP की ओर से नेता अनंतकुमार ने कहा, की एक पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद पर होने वाले इंसान से इस प्रकार के टिप्पणी की उम्मीद नही की जा सकती। साथ ही उन्होंने कहा कि, अगर राहुल गांधी ऐसेही आरोप लगाते रहेंगे, तो लोग समझेंगे की, राहुल गांधी जी का मानसिक स्वास्थ्य और संतुलन बिगड़ चुका है। उन्होंने प्रधानमंत्री जी की प्रशंसा करते हुए कहा कि, मोदी जी वो इंसान हैं, जिन्होंने इस देश को घोटाला मुक्त सरकार दी।

कर्नाटक राज्य के चुनाव में आये नतीजों के बाद आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने कहा कि, जो भी व्यक्ति लोकतंत्र में विश्वास करता हैं, वो खुश हैं। वही ममता बनर्जी ने भी कहा की, ये लोकतंत्र और ‘क्षेत्रीय मोर्चा’ की जबरदस्त जीत हैं। कोंग्रेस और JDS के नेताओं को बधाई हो। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी कर्नाटक के मामले पर कहा कि, सबको खरीद लेने का दावा करने वालों को के अच्छा सबक मिला है और इसके बाद केंद्र सरकार को भी नैतिक रूप से इस्तीफा दे देना चाहिए।साथ ही BSP की प्रमुख मायावती ने कहा, ये BJP के लिए बड़ा झटका है, 2019 के लिये उन्होंने सोची हुई सारी योजनाएं फेल हो गई।

हालांकि, कल कर्नाटक राज्य विधानसभा में बहुमत साबित करने से पहले ही BJP के B.S. येदियुरप्पा ने मुख्यमंत्री पद का इस्तीफा दिया। अपने 13 पन्नों के भाषण में उन्होंने कहा कि, सत्ता गंवाना उनके लिए कुछ भी गंवाने जैसा नहीं है। मेरा जीवन लोगों के लिए है। येदियुरप्पा ने कहा कि, लोगों ने हमें 104 सीटें दी। बहुमत कांग्रेस या JDS के लिए नहीं है। उन्होंने कहा कि, यदि लोग हमें 104 की जगह 113 सीटें देते तो हम राज्य को स्वर्ग बना देते। उन्होंने कहा कि, 2019 के लोकसभा चुनाव में राज्य की 28 में से 28 सीटें BJP जीतेगी। येदियुरप्पा ने कहा कि, मैंने दो साल तक राज्य का दौरा किया और लोगों के चेहरे पर पीड़ा देखी। उन्होंने कहा कि, जितना प्यार लोगों ने मुझे दिया है उसे मैं कभी भूला नहीं सकता। कर्नाटक में हुई इस हार के बाद BJP के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि, आखिरकार कोंग्रेस और JDS कर्नाटक राज्य में जोड-तोड़ करने की कोशिश में सफल रहीं।

अब बताया जा रहा है कि, B.S. येदियुरप्पा के मुख्यमंत्री पद के इस्तीफे के बाद कर्नाटक के राज्यपाल वजुभाई वाला ने JDS नेता H.D. कुमारस्वामी को सरकार बनाने का न्योता दिया है और वो सोमवार को मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण करेंगे।