आखिर ऐसा क्या हुआ कि सुपर- 30 के आनंद कुमार सुसाइड करने को हो गए तैयार? थाने में आनंद कुमार ने जमकर किया ड्रामा

Anand kumar
Super 30

कहा जाता है कि झूठ ज्यादा दिनों तक नहीं छुपाया जा सकता और झूठ पर अगर आप कोई इमारत बना रहे हैं तो ये जल्द ही नस्तोनाबूद हो जाती है। कुछ ऐसा ही हुआ है बिहार की सुप्रसिद्ध और ड्रामेबाज कोचिंग सुपर-30 के साथ। जी हां सुपर थर्टी के कथित और महान गणितज्ञ आनंद कुमार के झूठ बोलने का दावा ‘आज का रिपोर्टर’ काफी पहले से ही कर रहा था, पर आनंद कुमार लगातार इस बात से कन्नी काट रहा था, लेकिन अब ‘आज का रिपोर्टर’ के द्वारा की गई मेहनत रंग ला चुकी है। जी हां आनंद कुमार की कोचिंग सुपर-30 के एक सहयोगी को पुलिस ने एक मामले के तहत गिरफ्तार कर लिया है।

सुपर-30 कोचिंग के एक सहयोगी को पुलिस ने किया गिरफ्तार – 

 

पिछले कुछ दिनों पहले सोशल मीडिया पर एक अफवाह उड़ाई जा रही थी जिसके निशाने पर पूर्व डीजीपी अभयानंद थे। उस फर्जी अफवाह में पेपर की एक कटिंग मौजूद थी जिसमें लिखा गया था कि पूर्व डीजीपी अभयानंद ने कोचिंग संस्थानों के नाम पर विदेशों में अरबों की संपत्ति बनाई है। जिससे उनकी छवि को खराब करने की कोशिश की जा रही थी। इसकी शिकायत पुलिस में दर्ज कराई तो पुलिस इस मामले की जांच IT सेल के साथ मिलकर काफी लंबे समय से कर रही थी और इसकी तह तक पहुंचने में लगी हुई थी इसके पीछे किस व्यक्ति का हाथ है। पुलिस की सक्रियता के कारण इस बात की जानकारी मिली कि जो शख्स अभयानंद के खिलाफ झूठी अफवाह सोशल मीडिया के माध्यम से फैला रहा है, वह शख्स कोई और नहीं बल्कि आनंद कुमार की सुपर थर्टी कोचिंग का एक सहयोगी है। पुलिस ने देर रात छापेमारी करके जितेंद्र कुमार नाम के युवक को अगमकुआं इलाके से गिरफ्तार कर लिया। छापेमारी के दौरान जितेंद्र के पास से लैपटॉप, मोबाइल के अलावा और कई सामान मिले। पुलिस लगातार जितेंद्र से पूछताछ कर रही है ताकि इस बात की पुष्टि की जा सकेगी आखिर उसे अभयानंद के खिलाफ झूठी अफवाह को फैलाने के लिए किसने कहा था….?

जरुर पढ़ें-ऋतिक रोशन के जिंदगी की सबसे बडी भूल कहीं सुपर-30 तो नही ?

जितेंद्र को छुड़ाने पुलिस थाने पहुंचे आनंद कुमार ने जमकर किया ड्रामा – 

 

जितेंद्र कुमार के नाम के शख्स की गिरफ्तारी के बारे में जब आनंदकुमार को पता चला तो वह उसे छुड़ाने के लिए पुलिस थाने पहुंच गए और वहां पहुंचने के बाद उन्होंने अपनी एड़ी चोटी का जोर लगा कर जितेंद्र को छुड़वाने की भरसक कोशिश की लेकिन पुलिस ने उनकी एक न सुनी। उसके बाद आनंद कुमार ने वहां जमकर ड्रामा किया और पुलिस को आगाह करते हुए यहां तक  कह डाला कि ‘अगर पुलिस जितेंद्र को नहीं छोड़ती है तो वह सुसाइड कर लेंगे’। इस बात को सुनने के बाद थाने में अलग ही माहौल बन गया कि आखिर जितेंद्र कुमार, आनंद कुमार के बारे में ऐसा क्या जानता है या उसके पास ऐसी क्या सच्चाई है जो अगर पुलिस को पता चल गई तो आनंद कुमार कहीं के नहीं बचेंगे जिसके लिए सुपर थर्टी के संचालक आनंद कुमार अपनी जान तक देने को तैयार हैं।

जरुर पढ़ें-सुपर-30 फेम आनंद कुमार के खिलाफ न्यायिक जाँच की मांग

गौरतलब है कि आनंद कुमार और पूर्व डीजीपी अभयानंद ने मिलकर सुपर थर्टी कोचिंग की शुरुआत की थी लेकिन आंतरिक विवादों के चलते अभयानंद सुपर-30 का साथ छोड़ दिया और वह अब दूसरी जगह शिक्षण कार्य के रूप में अपना योगदान देते हैं। कहा यह भी जा रहा है कि पूर्व डीजीपी अभयानंद को बदनाम करने के लिए कहीं ना सुपर थर्टी कोचिंग का हाथ है और गिरफ्तारी के बाद यह बात साफ हो गई है कि जितेंद्र कुमार सुपर थर्टी कोचिंग से जुड़ा हुआ है।  वही  सूत्रों के मुताबिक जिस जितेंद्र कुमार नाम के शख्स को पुलिस ने गिरफ्तार किया है उसके खिलाफ पश्चिम बंगाल में पहले से ही एक आपराधिक मुकदमा दर्ज हुआ है जहां से वह जमानत पर बाहर निकला है । जिसके बाद उसने पूर्व डीजीपी अभयानंद को बदनाम करने के लिए ऐसी साजिश रची ।जिसने पूर्व डीजीपी की छवि को खराब करने के लिए सोशल मीडिया पर झूठी अफवाह उड़ाई। हालांकि पुलिस जल्द ही इस मामले की तह तक पहुंच जाएगी उसके बाद इसमें नए रोचक तथ्य भी सामने उभर कर आएंगे फिलहाल के लिए इतना जरूर कहा जा सकता है कि आनंद कुमार की सुपर थर्टी कोचिंग की नींव लड़खड़ा गई है और जल्द ही सुपर थर्टी कोचिंग के माध्यम से चल रहे गोरखधंधे का पर्दाफाश भी हो जाएगा। दूसरी ओर जितेंद्र कुमार को छुड़ाने के लिए आनंद कुमार ने जो हरकत की है उससे यह साफ पता चलता है कि इस अफवाह के पीछे कहीं ना कहीं आनंद कुमार का हाथ हो सकता है।

 

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram