कॉमनवेल्थ में गोल्ड जितने वाले पूनम यादव पर हमला, गोल्डन गर्ल की छलकी आंखे

कॉमनवेल्थ गेम्स में गोल्ड मेडल विजेता पूनम यादव पर शनिवार को बनारस में कुछ लोगों ने जानलेवा हमला कर दिया। कुछ लोग लाठी, डंडे और पत्थरों के साथ उनपर टूट पड़े। पुलिस की मदद से पूनम को एंबुलेंस में बैठाकर वहां से निकाला गया। ये घटना शहर से 30 किमी दूर रोहनियां थाना क्षेत्र के मुंगवार गांव में हुई। पूनम मुंगवार में बुआ से मिलने गयी थीं। वापस लौटते समय गांव के बाहर हमला हुआ। हमले में आंतरराष्ट्रीय वेटलिफ्टर तो बाल-बाल बच गई, मगर उनके परिवार के कई सदस्य घायल हो गए।

पूनम के फूफा का गांव के लुल्लुर यादव से जमीन का पुराना विवाद चल रहा है। शनिवार को दोनों पक्षों में हल्की नोकझोंक हुई थी। पूनम शनिवार सुबह साढ़े नौ बजे कार से अपनी बुआ से मिलने मुंगवार पहुंची थीं। उनके साथ रिश्तेदार व साथी भी थे। लगभग आधे घंटे मिलने के बाद पूनम लौटने लगीं, लौटते वक्त पूनम की गाड़ी तो आगे निकल गई पर पीछे तीन बाइक और एक स्कूटी पर चल रहे लोगों पर लुल्लर के पक्ष के लोगों ने हमला कर दिया और मारने पीटने लगे। तीन-चार किलोमीटर आगे आ चुकी पूनम को जब इसकी जानकारी हुई तो वह राजातालाब पुलिस चौकी पहुंची और फोर्स के साथ बुआ के परिवार के लोगों को बचाने पहुंची। इस घटना से आहत पूनम यादव दोपहर बाद अपने घर पहुंची और मीडिया से बातचीत के दौरान कई बार उनकी आंखे छलकी। पूनम के चचेरे भाई संजय यादव, रामआसरे यादव, चंदन, बुआ की लड़की नीतू और पूजा को चोट आई है। देर शाम तक पूनम से मिलने वालों का तांता लगा रहा। सीओ सदर अंकिता सिंह ने बताया कि दोनों पक्ष से पूछताछ की गई है। तहरीर मिलने के बाद आगे की कारवाई की जाएगी।अब रोहनिया पुलिस इस पूरे मामले की जांच कर रही है।

पूनम की मौसेरी बहन ने बताया कि प्रधान और पड़ोसियों ने मिलकर हमारे घर पर हमला बोला इस हमले में उन्होंने ईंट, पत्थर और डंडों का इस्तेमाल किया। इस बीच जब पूनम उनका बीच-बचाव करने आईं तो उन लोगों ने पूनम पर भी हमला किया। अन्य पड़ोसियों ने बताया कि इन दोनों घरों में पहले से ही विवाद चल रहा है।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram