ब्रिटेन के अदालत ने भगोड़े मल्ल्या को आदेश दिया, कहां 2,00,000 पौंड का भुगतान करे

देश के बैंकों का करीब 9000 करोड़ रुपए लूटकर भागे शराब कारोबारी विजय माल्या को आज ब्रिटिश अदालत से एक बड़ा झटका लगा है। ब्रिटेन की अदालत ने भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या को आदेश देकर कहां हैं की, माल्या को कानूनी लागत जवाबदेही के मद में 2,00,000 पौंड का भुगतान करना ही होगा। पिछले महीने, न्यायाधीश एंड्रयू हेन्शॉ ने माल्या की संपत्ति को फ्रिज करने के आदेश को खत्म करने से इंकार कर दिया था, साथ ही न्यायाधीश एंड्रयू हेनशॉ ने भारतीय अदालत को सही ठहराते हुए यह कहा की, भारतीय स्टेट बैंक की अगुवाई वाला 13 भारतीय बैंकों का समूह माल्या से लगभग 1.145 अरब पौंड की वसूली का हकदार है। इन बैंकों में भारतीय स्टेट बैंक, बैंक आफ बड़ौदा, कारपोरेशन बैंक, फेडरल बैंक, आईडीबीआई बैंक, इंडियन ओवरसीज बैंक, जम्मू कश्मीर बैंक, पंजाब एंड सिंध बैंक, पंजाब नेशनल बैंक, स्टेट बैंक आफ मैसूर, यूको बैंक, यूनाइटेड बैंक आफ इंडिया व जेएम फिनांशल एसेट रिकंस्ट्रक्शन कंपनी शामिल है।

आपको बात दें कि पिछले साल अप्रैल में हिरासत में लिए जाने के विजय माल्या फिलहाल बेल पर है। माल्या के वकील का कहना है कि, उनके क्लाइंट के खिलाफ जो भी आरोप लगाए गए हैं, वो पूरी तरह से निराधार हैं उन्होंने कहा है कि, मानवाधिकार के आधार पर भी हम मजबूत हैं। भारत से भागे माल्या पर भारतीय बैंकों को लगभग 9000 करोड़ रुपये का कर्ज है। वह खुद को भारत प्रत्यार्पित किए जाने के खिलाफ एक अलग मामला लड़ रहे हैं। इस मामले की आखिरी सुनवाई अगले महीने वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट कोर्ट में होगी। इस दौरान उसकी बचाव टीम और भारत सरकार की ओर से क्राउन अभियोजन सेवा अपनी दलीलें पेश करेगी। पहले इस मामले की सुनवाई 11 जुलाई को होनी थी लेकिन अब 31 जुलाई को होगी।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram