मुजफ्फरपुर शेल्टर होम के मामले में मंजू वर्मा और बृजेश ठाकुर के घरों में की गई छापेमारी

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम में बच्चियों के साथ हुए यौन उत्पीड़न के मामले में पूर्व समाज कल्याण मंजू वर्मा की मुश्किलें बढ़ती ही जा रही हैं। इस मामले की जांच कर रही सीबीआई ने मंजू वर्मा के आवास में छापेमारी की है। शुक्रवार को सीबीआई की टीम मंजू वर्मा के पटना स्थिर सरकारी आवास पहुंची। पटना के अलावा सीबीआई ने मंजू वर्मा के 5 और परिसरों में छापेमारी की है। मंजू वर्मा के बेगूसराय स्थित पैतृक गांव श्रीपुर के घर की भी जांच की जा रही है। वहीं एनजीओ के संचालक बृजेश ठाकुर के रिश्तेदारों और मित्रों के 7 ठिकानों पर भी तलाशी ली गई है।

मंजू वर्मा से की गई पूछताछ-

मुजफ्फरपुर कांड को लेकर पूर्व मंत्री मंजू वर्मा के आवास पर सीबीआई ने छापेमारी की है पटना, भागलपुर समेत कई ठिकानों पर रेड की जा रही है। वहीं मंजू वर्मा से इस मामले पर पूछताछ चल रही है क्योंकि मंजू वर्मा के पति चंदेश्वर वर्मा का भी नाम सामने आया था। कॉल डिटेल में यह सामने आया था कि ब्रजेश ठाकुर और चंदेश्वर वर्मा के बीच कई बार बातचीत हुई थी। वहीं इस पूरे मामले को लेकर पिछले सप्ताह ही मंजू वर्मा को समाज कल्याण मंत्री के पद से इस्तीफा देना पड़ा था।

बृजेश ठाकुर के रिश्तेदारों के घर पर छापेमारी-

बृजेश ठाकुर जो इस शेल्टर होम के संचालक थे उनके रिश्तेदारों और परिजनों के घरों पर भी छापेमारी की जा रही है। सीबीआई की टीम ने ब्रजेश ठाकुर के 7 ठिकानों पर छापेमारी कर रही है। शुक्रवार सुबह सीबीआई के अधिकारी ब्रजेश के दो बहनोई के घर पहुंचे। वहीं सीबीआई की अन्य टीमें ब्रजेश के गांव और एनजीओ और अखबार से जुड़े ठिकानों पर पहुंचे हैं। सीबीआई को ब्रजेश की सहयोगी मधु की भी तलाश है।

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम के मामले में अब सीबीआई बड़ी तेजी से पूछताछ और सबूत इकट्ठा करने पर जुड़ी है अब उम्मीद दिया है कि जल्द से जल्द इस पूरे मामले पर रोशनी पड़ेगी और यह मामला खुलकर सामने आएगा।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram