मेरठ में मनचलों से परेशान होकर नाबालिग छात्रा ने खुद को आग के हवाले कर दिया

आज जहां हमारा देश भारत नारी सशक्तिकरण को बढ़ावा दे रहा है तो वहीं, भारत के कुछ इलाके ऐसे भी हैं जहां आए दिन बच्चियों के साथ यौनशोषण, छेड़छाड़, बलात्कार हो रहें हैं। अभी हाल ही में मुजफ्फरपुर शेल्टर होम का मामला सुलझा भी नहीं है, कि अब ऐसी ही खबर मेरठ से आ रही है। जहां, दसवीं में पढ़ रही बच्ची के साथ मनचलों ने छेड़छाड़ की और छेड़छाड़ से परेशान होकर बच्चे ने खुद को आग के हवाले कर दिया।

पूरी वारदात-

यह घटना मेरठ के सरधना के गांधीनगर मास्टर कॉलोनी की है। इस कॉलोनी में 10वीं की छात्रा अपने परिवार के साथ रहती थी। इस 14 वर्षीय छात्रा पर कस्बे के रहने वाले राजवंश बागड़ी, रोहित सैनी, अमन और दीपक नाम के लड़कों ने जबरदस्ती दोस्ती करने की धमकी दी और रास्ते में रोककर उसे जबरन मोबाइल फोन देने की कोशिश की जब छात्रा ने मोबाइल फोन लेने से मना कर दिया तब लड़कों ने कहा कि ‘तुम फोन नहीं लिया तो इसकी जिम्मेदार तुम खुद होगी’। मनचलों ने लड़की से अश्लील बातें की और धमकी दी कि अगर तुम हमारी बात नहीं मानोगी तुम्हारा अश्लील वीडियो बनाकर वायरल कर देंगे। छात्रा के पिता का कहना है कि रात को करीब एक बजे इन युवकों ने उनकी बेटी को फोन किया था। फोन उन्होंने उठाया था और युवकों को फिर ऐसा न करने की सलाह दी थी। लेकिन मनचलों  ने उनकी बात नहीं मानी, जिसके बाद पीड़िता के पिता शुक्रवार सुबह सभी इनके घर जाकर उनके परिजनों से इस बात की शिकायत की थी। लेकिन मनचलों के परिवार ने उल्टा लड़की पर ही आरोप डाल दिया।

मनचले से परेशान होकर लड़की ने खुद पर आग लगाई-

इस छात्रा को मनचले काफी दिनों से परेशान कर रहे थे। मनचलों की धमकी से परेशान होकर और घरवालों को खुद की वजह से इतना परेशान देखकर लड़की ने खुद पर मिट्टी का तेल छिड़क कर खुद को आग के हवाले कर दिया।घटना के बाद गंभीर रूप से झुलसी हुई छात्रा को गंभीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उसकी हालत बेहद नाजुक बनी हुई है। छात्रा के परिवार ने इन 6 लड़कों पर FIR दर्ज करवा दी है और पुलिस भी इस मामले में सतर्क होकर इन लड़कों की तलाश कर रही है। एसएसपी राजेश पांडेय ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है। जल्द ही सभी की गिरफ्तारी की जाएगी।

नाबालिक छात्रा के पिता ने सीएम योगी और प्रधानमंत्री मोदी से इंसाफ कि गुहार लगाई है, लेकिन मुद्दे की बात यह कि आखिरकार कब तक इस देश में लड़कियां सुरक्षित रहेंगे ? इन मनचलों की हरकतों से परेशान होकर खुद को मौत के हवाले करती रहेंगी ? क्या इस देश में कभी लड़कों को इन सब हरकतों के लिए भयानक दंड मिलेगा ?

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram