इस शिक्षक को दी गई मौत की सजा, पढ़ें पूरा मामला

यूं तो गुरु को भगवान से भी श्रेष्ठ माना जाता है और उनकी पूजा की जाती है क्योंकि एक गुरु के मार्गदर्शन के बिना किसी के भी जीवन का उद्धार हो ना या सफलता प्राप्त करना असंभव है लेकिन कभी-कभी एक गुरु ही नरभक्षक बनकर सामने आ जाता है कुछ ऐसा ही मामला सामने आया है एक ऐसे शिक्षक का जिसने छात्रा के साथ ऐसी हरकत की जिसके बाद उसे मौत की सजा सुनाई गई है।

क्या है पूरा मामला – 

1 जुलाई की रात को सतना जिला मुख्यालय से करीब 30 किलोमीटर दूर उचेहरा थाना क्षेत्र के पन्ना गांव में एक बच्ची के साथ बलात्कार की घटना का मामला सामने आया जिसके बाद इस मामले की जब शिकायत दर्ज हुई तो मामला कोर्ट तक भी पहुंचा और फिर इस मामले में कार्यवाही को काफी तेजी से किया गया। सरकारी अतिथि शिक्षक के ऊपर आरोप था कि उसने एक बच्ची के साथ बलात्कार किया है। वहीं उस बच्ची की हालत इतनी नाजुक थी कि उसका अभी भी इलाज नई दिल्ली एम्स में चल रहा है। घटना 81वें दिन ही यह फैसला आ गया है। लोक अभियोजक रामपाल सिंह ने बताया है कि अदालत ने उसे आईपीसी की धारा 376 (क ख) तथा पॉक्सो अधिनियम की धारा 5/6 के तहत मृत्युदंड की सजा सुनाई गई है। वही शिक्षक इस घिनौनी हरकत को अंजाम देने के बाद बच्ची को एक सुनसान जगह पर फेंक कर फरार हो गया था।

गौरतलब है कि आज देश में बलात्कार और रेप के कई ऐसे मामले लालफीताशाही का शिकार बन कर दीमक की भेंट चढ़ जाते हैं और उनका इंसाफ मिलते मिलते भुक्तभोगी को कानून से उम्मीद भी खत्म हो जाती है। लेकिन या पहले ऐसा मामला है जिसमें काफी त्वरित रूप से इस मामले की सुनवाई करते हुए शिक्षक को सजा-ए-मौत की सजा सुनाई गई है।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram