लोगों ने फेसबुक पे लगा दिए आनंद कुमार को क्लास, आनंद की चुप्पी बरक़रार

“झूठ बोले कौवा काटे”

“काले कौवे से डरियो”

शायद यह पंक्तियां सुपर-30 के संचालक आनंद कुमार ने नहीं पढ़ी होंगी, या फिर अगर उन्होंने पढ़ा भी था, तो इसे नजरअंदाज कर दिया होगा कि ,भला उन्हें इस लाइन से क्या लेना देना ? और उन्हें भविष्य में इसकी क्या जरूरत पड़ेगी लेकिन कहा गया है कि आप जो भी करेंगे वह आपके सामने कभी ना कभी किसी न किसी रूप में आकर जरूर खड़ा होगा।कुछ ऐसा ही हो रहा है सुपर-30 के संचालक आनंद कुमार के साथ जो एक समय तरक्की की बुलंदियों पर हुआ करते थे और  उन्हें लोगों के द्वारा सराहा जाता था और उनकी तारीफों के पुल बांधे जाते थे। लेकिन जब से उनका असली चेहरा दुनिया के सामने आया है और उनके झूठे दावों की पोल में सेंध लगी है, तब से आनंद कुमार की जिंदगी में भूचाल सा आ गया है। एक के बाद एक बौखलाहट भरे कदमों को उठाकर आनंद कुमार यह साबित कर रहे हैं कि सुपर-30 के पीछे जरूर कई राज छिपे हैं जिसके खुल जाने पर उनका गोरखधंधा चौपट हो जाएगा।

सुविख्यात मनोचिकित्सक तथा सुपर 30 पुस्तक के लेखक बीजू मैथ्यू मेरे बायोपिक के दिशा-निर्देशन के उद्देश से कल कनाडा से…

Posted by Anand Kumar on Sunday, 29 July 2018

बिहार की  जानना चाहती है सच्चाई

 

बिहार की जनता आनंद कुमार के पीछे पड़ गई है क्योंकि वह जानना चाहती है कि क्या आनंद कुमार की सुपर-30 से इस बार 26 बच्चों का सिलेक्शन हुआ था या नहीं ? क्योंकि इस बारे में खुलासा किया जा चुका है कि आनंद कुमार की सुपर थर्टी से इस बार केवल 3 बच्चों का ही चयन IIT में हुआ है। जबकि आनंद कुमार ने दावा किया था कि उनकी कोचिंग से 26 बच्चों का सेलेक्शन हुआ है। लोगों का ध्यान भटकाने के लिए आनंद कुमार ने आज कुछ फोटो अपने Facebook अकाउंट के जरिए डाली जो कि उनके ऊपर बन रही बायोपिक के सेट की है। इस फोटो में उनके साथ ऋतिक रोशन और सुपर-30 पुस्तक के लेखक बीजू मैथ्यू भी दिखाई दे रहे हैं। आनंद कुमार को लगा कि लोग अब उनसे छात्रों की लिस्ट का जिक्र नहीं करेंगे। लेकिन लोगों को सच्चाई किसी भी हाल में जानना है और वो भी आनंद कुमार के मुंह से। आनंद कुमार के फोटो डालते ही लोगों ने उनकी पोस्ट पर कमेंट करना शुरू कर दिया और उनको फ्रॉड गद्दार आदि शब्दों से भी नवाजा। तो वहीं कुछ लोगों ने इस बात की भी मांग रखी, कि आप सबसे पहले इस बात को सत्यापित कीजिए कि क्या,  आपके यहां से 26 बच्चों का सेलेक्शन हुआ था या केवल 3 बच्चों का ?

हालांकि आनंद कुमार ने अभी तक इन प्रश्नों का कोई भी जवाब नहीं दिया है और उन्होंने इस मामले में चुप्पी साध रखी है। हालांकि उनकी इस चुप्पी के पीछे क्या राज है वह केवल आनंद कुमार ही जानते हैं। बस लोगों को अब आनंद कुमार के मुंह से सच सुनना है और लोगों को इंतजार है कि आनंद कुमार बौखलाकर जल्द ही कुछ ना कुछ जरूर बोलेंगे।

जरुर पढ़ें-जनता जनार्दन ने भी रखी मांग, आनंद कुमार जारी करें अब 26 छात्रों की सूची

            सुपर-30 फेम आनंद कुमार के खिलाफ न्यायिक जाँच की मांग

            सुपर-30 द्वारा इंजीनियरिंग कॉलेज में एडमिशन कराने के नाम पर भी पैसों का लेनदेन?

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram