GOOGLE शिक्षकों का स्थान कभी नही ले सकता – उपराष्ट्रपति वैंकैया नायडू

उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने शनिवार को एक समारोह में अपने संबोधन में कहा कि शिक्षक समाज को बदलने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं और इसे कभी भी बदल नही जा सकता है, Google भी नही।

“कोई संदेह नहीं है Google महत्वपूर्ण है, लेकिन यह छात्रों के जीवन में गुरु की जगह कभी नहीं ले सकता है,” नायडू ने KIIT यूनिवर्सिटी के 13वें दीक्षांत समारोह में स्नातक, स्नातकोत्तर और डॉक्टरेट डिग्री धारकों को संबोधित करते हुए कहा। इसलिए छात्रों को गुरुओं के लिए आभारी होना चाहिए और साथ ही माता, मातृभाषा और मातृभूमि की सेवा के लिए भी काम करना चाहिए।

उन्होंने कहा,” भारत एक महान विरासत है और आपको महान भारतीय संस्कृति के उत्तराधिकारी के रूप में गर्व महसूस करना चाहिए। यहां अंग्रेजी, हिंदी या फ्रांसीसी सीखने में कुछ भी गलत नहीं है, लेकिन मातृभाषा में भी प्रवीण होना चाहिए, जो कि दिल से आता है और अपनी भावनाएं व्यक्त करने में मदद करता है।

उन्होंने कहा कि देश तभी बढ़ता है जब उच्च शिक्षा क्षेत्र में विकास होता है। उन्होंने आज के  प्रतिस्पर्धी जीवन के बारे में चर्चा करते हुए, नए कौशल सीखने और समकालीन दुनिया के नए तकनीकी ज्ञान प्राप्त करने पर जोड़ देते हुए युवाओं को आने वाले भविष्य के लिये खुद को तैयार होने को कहा।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram