Wikipedia पर भी आनंद कुमार बने गुनाहों के शिक्षक

बिहार के झूठे बुनियाद पर तैयार हुई आनंद कुमार की सुपर थर्टी कोचिंग एक के बाद एक ऐसे मामलों में फंसी जिसके बाद सुपर थर्टी कोचिंग की पोल सबके सामने खुल कर सामने आ गई आनंद कुमार ने फ्री शिक्षा के नाम पर धन उगाही का एक नया तरीका तो आजमाया ही साथ ही साथ उन्होंने लोगों को बेवकूफ बनाने के लिए भी फर्जी नाम की लिस्ट को सिलेक्ट हुए IIT-ians की लिस्ट के रूप में बताते हुए भी पकड़े गए और उनकी 26 बच्चों के लिस्ट आज तक नहीं शामिल हुई वही उनकी आने वाली फिल्म जो कि आनंद कुमार की बायोपिक थी उसका नाम भी बदलकर ‘Inspired by Anand Kumar’s life and his students’ कर दिया गया है। लेकिन इसी के साथ ही साथ जानी-मानी वेबसाइट Wikipedia पर भी आनंद कुमार की छवि पर एक दागी अध्याय जोड़ दिया गया है।

Wikipedia पर लिखी गई आनंद कुमारी के बारे में यह बात – 

Wikipedia के बारे में आज हर कोई जानता है और वहीं अगर किसी को किसी विशेष विषय के बारे में जानकारी प्राप्त करनी है, तो वह Wikipedia का ही सहारा लेता है, जहां पर उसे शत प्रतिशत सही जानकारी प्राप्त होती है। आनंद कुमार की सुपर-30 के बारे में जो राज खुले और उनके ऊपर जो सवाल उठे और वह सही भी साबित हुए। उसे देखते हुए Wikipedia पर आनंद कुमार की बनी प्रोफाइल में ‘कॉन्ट्रोवर्सी’ नाम के एक सेक्शन में आनंद कुमार के ऊपर लगे आरोपों के बारे में और उनकी फिल्म के नाम में हुए बदलाव के बारे में भी एक अध्याय जुड़ गया है। जिससे यह साबित होता है कि आनंद कुमार कहीं ना कहीं किसी ना किसी मोड़ पर झूठे जरूर साबित हुए हैं, क्योंकि Wikipedia पर इसके बारे में साफ तौर पर लिखा गया है कि आनंद कुमार किस वजह से सुर्खियों में रहे और उनकी 26 बच्चों के लिस्ट न जारी होने की वजह से कैसे उनका झूठ दुनिया के सामने आ गया । इतना ही नहीं बल्कि आनंद कुमार के घरवालों के नाम पर जो कई प्रॉपर्टीयां खरीदी गई हैं उसके बारे में भी Wikipedia पर लिखा गया है। साथ ही साथ एक अपराधी को जाकर थाने में छुड़ाने वाले मामले के बारे में भी Wikipedia पर लिखा गया है ।

गौरतलब है कि आनंद कुमार के ऊपर पिछले दिनों खूब बवाल हुआ था क्योंकि उन्होंने एक अपराधी को छुड़ाने के लिए थाने में भी जाकर हंगामा किया था और उन्होंने अभी तक 26 बच्चों की लिस्ट नहीं जारी की है क्योंकि उनकी सुपर 30 से 26 बच्चों का सिलेक्शन इस बार IIT में हुआ ही नहीं था, जिसको देखते हुए Wikipedia ने आनंद कुमार की छवि में यह दागदार अध्याय भी जोड़ना उचित समझा ताकि लोगों को आनंद कुमार की हर सच्चाई जरूर पता रहे ।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram