‘पद्मावती- काल्पनिक चरित्र’- पद्मभूषण इतिहासकार इरफान हबीब

रानी पद्मावती पर विवाद थमने का नाम ही नही ले रहा है, यह फ़िल्म अपने निर्माण के समय से ही विवादों से घिरी है। निर्माण के दौरान ही करनी सेना के सेनानीओं द्वारा इसके सेट पर निर्माता व निर्देशक संजय लीला भंसाली के साथ झड़प और हाथा-पाई की बात हो या फिर इसके द्वारा मल्टीप्लेक्स के मैनेजर्स को फ़िल्म रिलीज ना करने की लिखित धमकी हो या फ़िल्म के डिस्ट्रीब्यूटर्स द्वारा विवाद को पहले सुलझाने का दबाब हो, विवादों के साये में ही रही है यह फ़िल्म। इस से एक बात तो तय है कि इस फ़िल्म के चर्चाओं का बाजार गर्म है, शायद यह इसके बिज़नेस के लिए फायदेमंद हो। फ़िल्म का ट्रेलर रिलीज होते ही हिट हो चुका है, इंडस्ट्री के तमाम दिग्गज कलाकारो नेइस फ़िल्म को सराहा है।

अब ताज़ा विवाद यह है कि इतिहासकार इरफान हबीब ने इस फ़िल्म के मुख्य किरदार ‘पद्मावती’ को ही काल्पनिक चरित्र कह दिया है। “हालांकि अलाउद्दीन खिलजी ने चित्तौड़ जीता, किन्तु उस अवधि के दौरान पद्मावती के रूप में कोई भी चरित्र का कोई उल्लेख नहीं है” उन्होंने कहा।

पद्मावती फिल्म पर विवाद पर चर्चा करते हुए उन्होंने कहा,” अगर कोई फिल्म निर्माता ऐतिहासिक तथ्यों पर फिल्म बना देता है, तो वह असफल हो जायेगा।

 

ज्ञात हो कि इरफान हबीब पद्म भूषण पुरस्कार से सम्मानित है और एक प्रसिद्ध इतिहासकार है।

दीपिका पादुकोण, रणबीर सिंह, शाहिद कपूर आदि सितारों से सजी इस फ़िल्म का इंतज़ार तो उनके फैंस कर ही रहे है साथ ही इतने विवादों से नाम जुड़ने के कारण आम जनता में भी इस फ़िल्म को देखने की उत्सुकता उत्पन्न हो गयी है।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram