टीमें हो अलग , मैदान हुआ जुदा पर धोनी -युवराज का याराना कर देता है फ़िदा !

कल किंग्स एलेवेन पंजाब और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच कल हुए क्लोज एनकाउंटर मैच को अभी तक का सीजन का सबसे रोमांचक मैच कहा जा सकता है जिसमें पंजाब को 4 रनो से जीत हासिल हुयी थी | मैच के गेंद दर गेंद बदलते मैच के रोमांचकारी पालो के बीच दोस्ती कम स्पोर्टमैनशिप की बयार देखनी को मिली |  13 .4 ओवर  में चेन्नई का स्कोर 113 /4  था और उसे 198 रनो के लक्ष्य हासिल करने के लिए 38 गेंदों पर 13 .50 रन रेट से 85 रनो की दरकार थी और ऐसे में एक पल्ला संभाल बैठे थे कप्तान कूल महेंद्र सिंह धोनी जिन्होने ने 44 गेंदों पर 79 रनो की नाबाद पारी खेली लेकिन टीम लक्ष्य से 4 रन दूर रह गयी |

पीठ में हुआ था दर्द फिर भी डटे रहे धोनी 

इसकी वजह थी धोनी के पीठ में अचानक दर्द उत्पन्न हो जाना जिसके कारण उन्हें रनिंग करने में दिक्कत कर रहे लेकिन टीम को जीतने की जद्दोजेहद में धोनी इतनी घुल गए की अपने दर्द की परवाह न करते वह लम्बे शॉट्स खेलते रहे और रन भी दौड़ते रहे लेकिन ठहरे तो धोनी एक इंसान ही इसलिए एक बार दर्द प्रहार इतना अधिक हो उठा की उन्हें फिजियो को मैदान पर बुलवाकर मालिस करवानी पड़ गयी जिससे खेल कुछ देर रुक गया था |

युवराज आये और दिखाया लाड , लोगों ने बताया “ब्रोमांस” 

जब मैच रुका हुआ था तो किंग्स एलेवेन के खिलाड़ी और धोनी के शुरूआती करियर से भाई सामान साथी खिलाड़ी युवराज सिंह उनके पास आये और उनसे मज़ाक करने ताकि उनको अच्छा लगे और यहीं नहीं युवराज अपने बुरे फॉर्म और हेल्थ इशू को हटाकर धोनी को हेड मैसेज देने लगे | वाकई जब खुद तकलीफ में हो तो दूसरे का दर्द कहाँ दीखता है और दिख भी जाये तो उस पर लेप लगाने का काम करना सबसे मुश्किल कर दिया लेकिन धोनी-युवराज ठहरे असली भाई तो एक दूसरे का दर्द एक सा हो जाता जिसका उत्तम नज़ारा यहाँ मिला |

लोगों ने इसे खूब सराहा है और इसे “ब्रोमांस” की संज्ञा देकर सोशल मीडिया में खूब चर्चा हो रही है | तो मैच जो भी हो ,टीम्स अलग हो , मैदान कहीं का भी हो धोनी -युवराज का एक ही सूत्र है – भाईचारा ! 

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram