इसरो चांद पर खुदाई करके निकालेगा, खरबों डॉलर जितना कीमती हीलियम-3

भारत देश के वैज्ञानिक आज बड़ी तेजी से विज्ञान का प्रयोग करके नई-नई ऊंचाइयों को छू रहे हैं। कुछ साल पहले इसरो ने मंगल ग्रह पर मंगलयान भेज कर जो कीर्तिमान रचा था उसे देखकर दुनिया दंग रह गई थी। वहीं अब खबर आ रही है कि इसरो जल्द ही एक नए मिशन की शुरुआत करने जा रहा है जिसमें वह चांद की सतह पर खुदाई करके खरबों डॉलर की कीमत वाला हीलियम 3 ढूंढने जा रहा है। इस मिशन की शुरुआत अक्टूबर से बताई जा रही है।

अक्टूबर में लांच होगा हीलियम 3 के लिए मिशन – 

इंडियन स्पेस रिसर्च आर्गेनाईजेशन (ISRO) चांद पर हीलियम 3 की खोज खोज के लिए अक्टूबर से एक बड़ा मिशन लॉन्च करने जा रहा है। वहीं मिली जानकारी के मुताबिक यह भी कहा जा रहा है कि कई अन्य देश भी चांद पर हीलियम 3 के होने की संभावना जता रहे हैं और वह इसकी खोज करने की कोशिश में लगातार प्रयत्नरत हैं। जिसको देखते हुए भारतीय स्पेस रिसर्च आर्गेनाईजेशन ने सक्रियता दिखाकर अक्टूबर से इस मिशन के लिए प्लान तैयार कर लिया है।

250 सालों तक नहीं होगी ऊर्जा की कमी – 

इसरो के सूत्रों के मुताबिक पता चला है कि अगर चांद पर हीलियम 3 मिल जाता है तो आने वाले समय में 250 सालों तक ऊर्जा की किसी भी प्रकार से कमी नहीं होगी क्योंकि हीलियम 3 बहुत ही ऊर्जावान तत्व है। इसरो के मुताबिक हीलियम 3 की खोज में लगे देशों में जिस देश ने सर्वप्रथम हीलियम की खोज कर ली वह इस क्षेत्र में वर्चस्व हासिल कर लेगा। 

 

इसरो के वैज्ञानिक लगातार इस विषय पर लगे हुए हैं जिसके लिए अक्टूबर में एक रोवर मिशन और एक जांच मिशन चांद पर हीलियम 3 की खोज के लिए भेजा जाएगा। मिली जानकारी के अनुसार कहा जा रहा है कि जांच के शुरुआती दौर में चांद की सतह से कुछ नमूने लिए जाएंगे जिनको वापस धरती पर परीक्षण के लिए इसरो में भेजा जाएगा दूसरी ओर इसरो के इस मिशन में करीब 800 करोड़ रुपए का खर्च आएगा जबकि नासा के द्वारा इस मिशन में अरबों रुपए खर्च किए जा रहे हैं।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram