ट्रांसपोर्टरों के हड़ताल से, आवश्यक चीजों की कीमतें चढ़ सकती हैं.

bus_and_truck_strike_source_hindustan_times_1532095702

ट्रांसपोर्टरों ने डीजल, टोल सस्ता करने, ई-वे बिल, थर्ड पार्टी बीमा का प्रीमियम कम करने और टीडीएस कटौती जैसे नीतिगत बदलावों और समस्याओं को दूर करने की मांग पर अनिश्चित काल तक चक्काजाम शुरू कर दिया हैं. हालाकि कुछ जगहों को छोड़कर बाकी स्थानों पर हड़ताल का ज्यादा असर नहीं दिखाई दिया है, क्योंकि ट्रांसपोर्टरों को इस मामले में जल्द ही कुछ समाधान निकलने की उम्मीद है. लेकीन कुछ राज्यों में ट्रांसपोर्टरों की हड़ताल से फल व सब्जियों की कीमतों में तेजी का रुख देखा गया. ऐसे में हड़ताल लंबी खिंचने पर आने वाले दिनों में फल- सब्जी की आपूर्ति श्रृखंला टूटने से इनके दाम बढ़ सकते हैं. हड़ताल का आव्हान करने वाली ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस (AIMTC) के चेयरमैन कुलतारण सिंह अटवाल ने कहा है, मांगे नहीं माने जाने तक हड़ताल जारी रहेगी.

आपको बता दें कि, शुक्रवार से ट्रक ऑपरेटरों ने देशभर में हड़ताल शुरू कर दी है. इस हडताल का परिणाम देश भर में देखने को मिल रहा हैं. देशभर में करीब 90 लाख ट्रक और 50 लाख बसों के पहिये इस हड़ताल के चलते थम गए हैं. आंध्र प्रदेश, महाराष्ट्र, जम्मू-कश्मीर आदि में ट्रांसपोर्टरों ने बुकिंग करने से मना कर दिया है. ट्रक हड़ताल से दूध-सब्जी और बाकी सामानों की सप्लाई बंद हो गई है. ऐसे में लिहाजा आम आदमी को इन चीजों के लिए ज्यादा दाम चुकाने होंगे. हड़ताल की आशंका के चलते सब्जियों व फलों के दाम तीन चार दिन से तेज होने लगे थे. ट्रक हड़ताल की वजह से जरूरत की वस्तुओं की किल्लत हो सकती है. अगर हड़ताल सोमवार तक खिची तो आवक घटने के साथ कीमतें भी चढ़ सकती हैं.

ट्रक-बस ऑपरेटरों की अनिश्चितकालीन हड़ताल के पहले दिन बड़ी संख्या में स्कूली बसों के पहिए थम गए. दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, चेन्नई, नोएडा, गुरुग्राम समेत देश के सभी बड़े शहरों में आज स्कूली बसें नहीं चलीं. बसों की हड़ताल के कारण सबसे ज्यादा समस्या स्कूली बच्चों को हुई. बसें नहीं चलने के कारण बच्चों को दूसरे साधन से स्कूल जाना पड़ा. इस दौरान अभिभावक भी परेशान दिखे.

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram