Flipkart को शिकायत के लिए लगाई कॉल; तो मिल गई बीजेपी की सदस्यता

Flipkart के कई किस्से आपने जरूर सुने होंगे जिसमें कभी उसने ईंट की डिलीवरी की होगी तो कभी iPhone की जगह साबुन के टिकिया की। लेकिन आज हम आपको एक ऐसी खबर बताने जा रहे हैं जिसमें Flipkart ने इतिहास रचते हुए राजनीतिक पार्टी की सदस्यता की डिलीवरी अपने ग्राहक तक पहुंचाई है। जी हां हम बात कर रहे हैं एक ऐसी घटना कि जिसमें एक ग्राहक ने Flipkart से जब सामान मंगवाया तो उसे वो सामान नहीं मिला जो उसने मंगवाया था, तब उसने Flipkart को कॉल किया लेकिन कॉल करने के बाद उसकी शिकायत तो सुनी ही नहीं गई बल्कि उसके एवज में उसे बीजेपी की सदस्यता मिलने का ऑफर मिल गया।

ईयरफोन की जगह निकली तेल की बोतल – 

कोलकाता के रहने वाले रशद ( परिवर्तित नाम) ने बताया कि वह फीफा वर्ल्ड कप का बहुत बड़ा फैन है और वह देर रात तक फीफा वर्ल्ड कप का प्रसारण देखता है। जिसकी वजह से घरवालों को काफी परेशानी होती है। जिससे बचने के लिए उसने Flipkart से 2 ईयर फोन आर्डर करके मंगवाए थे और जब उसने Flipkart के द्वारा डिलीवरी पैकेट को खोला तो वह दंग रह गया। पैकेट के अंदर उसे तेल की बोतल मिली जिसको लेकर उसने शिकायत हेतु Flipkart द्वारा दिए गए नंबर पर कॉल  करने की सोची।

वेलकम टू बीजेपी और भौचक्का  कस्टमर – 

रशद ने जब शिकायत के लिए Flipkart के कस्टमर केयर अधिकारी को कॉल लगाई तो उसका फोन एक ही रिंग में कट हो गया और वह इस बात से परेशान हो गया कि उसका फोन क्यों कट गया लेकिन जितनी देर में वह दोबारा फोन लगाया था इतनी देर में उधर से एक मैसेज आता है कि,”वेलकम टू बीजेपी योर मेंबरशिप नंबर……… प्लीज सेंड योर नेम एड्रेस एंड ईमेल टू कंप्लीट द प्रोसेस”इसके बाद कस्टमर सन्न रह गया कि यह क्या है…! उसने तुरंत यह नंबर अपने दोस्तों को फॉरवर्ड किया और उनसे भी नंबर पर कॉल करने के लिए बोला तो उन लोगों के पास भी ऐसा ही मैसेज आया तब समझदारी दिखाते हुए रशद ने भांप लिया कि ये नंबर BJP का है, तब उसने इंटरनेट से Flipkart का मौजूदा नंबर निकाला और उस पर कॉल करके अपनी शिकायत दर्ज करवाई। उसके बाद उसने ट्विटर के माध्यम से फोटो शेयर करते हुए इस घटना का जिक्र किया ।

Flipkart और BJP दोनों बचाव हेतु मैदान में उतरे – 

वही Flipkart के संपर्क में जब यह मामला आया तो Flipkart ने इस असुविधा के लिए माफी मांगी और उसके बाद उसने अरशद के लिए दोबारा ईयर फोन भिजवाए। Flipkart ने यह भी बताया कि  उसने यह नंबर 3 साल पहले छोड़ दिया था लेकिन यह नंबर कुछ टेप पर पड़े रह गए थे।    वही Flipkart ने यह भी बताया कि पुराने बचे टेप का इस्तेमाल अभी भी कुछ जगह पर किया जा रहा है, जिसकी वजह से यह असुविधा हुई है हम उम्मीद करते हैं कि आगे से ऐसी असुविधा किसी भी फ्लिपकार्ट के ग्राहक को ना हो। वहीं पश्चिम बंगाल के बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष ने बयान जारी करते हुए कहा है कि बीजेपी का Flipkart के साथ किसी भी प्रकार का कोई संबंध नहीं है।

वैसे तो किसी भी ग्राहक को कस्टमर केयर अधिकारियों से यही उम्मीद रहती है कि उसकी शिकायत का निवारण जल्द से जल्द और प्रभावित तरीके से उचित कार्यवाही करते हुए किया जाएगा लेकिन जब वह कस्टमर केयर अधिकारियों को कॉल करें और उसकी फोन रिंग एक बार में ही कट जाए और उसके बाद उसे राजनीतिक पार्टियों की सदस्यता नंबर मिलने की बात हो तो लाजमी है कि इंसान आश्चर्यचकित रह जाएगा।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram