डॉ सौम्या स्वामीनाथन: WHO में पहली भारतीय उप महानिदेशक

डॉ सौम्या स्वामीनाथन
मंगलवार 3 अक्टूबर को विश्व स्वास्थ्य संगठन (डव्लू.एच. ओ.) ने डॉ. सौम्या स्वामीनारायण को उप महानिदेशक (डिप्टी डायरेक्टर जनरल) नियुक्त किया, ऐसा पहली बार हुआ है कि कभी इस प्रकार का पद संगठन में बनाया गया है, इस से पूर्व किसी भी भारतीय ने डब्लू.एच.ओ. में इतनी बड़े पद को सुशोभित नही किया है।
डॉ. स्वामीनाथन की नियुक्ति उनके द्वारा किये कार्यो और भारत के महत्व को दर्शाता है।डॉ स्वामीनाथन का जन्म 2 मई 1959 को चेन्नई में, ‘हरित क्रांति के भारीतय पिता’ श्री एम. एस. स्वामीनाथन और शिक्षाविद मीना स्वामीनाथन के यहाँ हुआ। उन्होंने अपनी डॉक्टरी की पढ़ाई (एम.बी.बी.एस. ) सशस्त्र बल मेडिकल कॉलेज (ए. एफ. एम.सी.), एमडी एम्स (ए. आई.आई.एम. एस.) से और राष्ट्रीय परीक्षा बोर्ड से राष्ट्रीय बोर्ड के डिप्लोमैट किया। तदोपरांत पोस्ट डॉक्टरेट बाल चिकित्सा पल्मोनोलॉजी में बच्चों के अस्पताल, लॉस एंजिल्स, दक्षिण कैलिफ़ोर्निया विश्वविधयालय के केस्क स्कूल से की। डॉ.स्वामीनाथन वर्तमान में भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद की महानिदेशक है जो कि जैविक चिकित्सा अनुसंधान को भारत मे निर्माण समन्वय और बढ़ावा देने के लिए सर्वोच्च संस्थान है। इन्होंने विभिन्न संस्थानों में भिन्न-भिन्न पदों को सुशोभित किया है। डॉ. स्वामीनाथन कितनी राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय समितियों की सदस्या है। अपने लंबे करियर के दौरान कितने राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर के पुरस्कार अर्जित कर चुकी है।
डॉ. स्वामीनाथन एक बाल रोग विशेषज्ञ और नैदानिक वैज्ञानिक है जो तपेदिक पे किये गए अपने काम के लिए जानी जाती है। वह तपेदिक अनुसंधान के लिए चेन्नई में मौजूद राष्ट्रीय संस्थान में 1992 में शानिल हुई और बाद में वहाँ की निदेशक भी बनी। उन्होंने टीबी और टीबी/एचआईवी के विभिन्न पहलुओं का अध्ययन करते हुए नैदानिक प्रयोगशाला और व्यवहार वैज्ञानिकों का एक बहु-विषयक समूह शुरू किया। पिछड़ी आबादी में टीबी के उपचार करने के लिए स्वामीनाथन और उनके सहयोगियों ने आण्विक निदान को टीबी निगरानी और देखभाल के लिए सबसे पहली बार बड़े पैमाने पर उपयोग किया। डॉ. सौम्या स्वामीनाथन का जीवन-चित्र बहुत ही प्रेरणात्मक है, इनकी उपलब्धियों को देख कर यही लगता है कि मेहनत, लगन और एकाग्रता से कुछ भी संभव है।
Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram