अरविंद केजरीवाल ने पूर्ण राज्य के दर्जे पर कहा- दिल्ली पहले मुग़ल, फिर अंग्रेज, और अब LG की है गुलाम

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक बार फिर LG और मोदी सरकार को आड़े हाथों लिया है और इस बार का मुद्दा है दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा देने का। रविवार को एक जनसभा को संबोधन के दौरान अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा न दिए जाने को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधा और कहा कि दिल्ली मुगलों के समय से लेकर आज तक गुलाम है। अरविंद केजरीवाल ने कहा कि यह दिल्ली का दुर्भाग्य है कि दिल्ली पहले मुगलों के गुलाम थी फिर अंग्रेजों की गुलाम हुई और इस समय दिल्ली LG अनिल बैजल की गुलाम है। अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि वे जल्द ही दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा दिलाने के लिए सर्वदलीय बैठक बुलाएंगे और ऑल पार्टी मीटिंग को भी बुलाकर इस मुद्दे को सभी के सामने रखेंगे।

केजरीवाल ने कहा दिल्ली में एलजी राज –

केजरीवाल ने एलजी अनिल बैजल पर जमकर हमला बोला और कहा कि दिल्ली में केवल LG का राज है। एलजी ने दिल्ली के दो करोड़ लोगों की बेइज्जती की है। आने वाले लोकसभा चुनाव 2019 में दिल्ली वाले अपनी बेइज्जती का बदला जरूर लेंगे। अरविंद केजरीवाल ने पिछले दिनों किए जाने वाले धरने के बारे में भी जमकर निशाना साधा। केजरीवाल ने कहा किसी गवर्नर की हिम्मत है क्या कि अपने CM से मिलने से मना कर दे ? यह दिल्ली वालों की बेइज्जती की जा रही है। अरविंद केजरीवाल ने आगे कहा कि एलजी अनिल बैजल कहते हैं कि राशन की डोर टू डोर डिलीवरी करने नहीं दूंगा क्या यह दिल्ली की जनता के साथ अन्याय नहीं है….?”

शहीद के परिजनों को एक करोड़ रुपए देने की फाइल भी रुकवा दी –

CM केजरीवाल ने अपना संबोधन यहीं नहीं खत्म किया उन्होंने एक के बाद एक लगातार अनिल बैजल पर जमकर निशाना साधा केजरीवाल ने कहा कि उन्होंने घोषणा की थी कि वह सीमा पर देश की रक्षा करते हुए शहीद हुए जवान के परिजनों को एक करोड़ रुपए की राशि दी जाएगी लेकिन अनिल बैजल ने यह फाइल भी रुकवा दी। अरविंद केजरीवाल ने अपनी पार्टी की तारीफ करते हुए कहा कि आम आदमी पार्टी एक ऐसी पार्टी है जो शहीदों को एक करोड़ रुपए राशि देती है जबकि ऐसा किसी भी राज्य में नहीं होता। केदरीवाल ने मोहल्ला क्लीनिक को दिल्ली सरकार की बड़ी उपलब्धि के रूप में बताया।

अरविंद केजरीवाल ने कांग्रेस पर भी तंज कसते हुए कहा कि ‘दिल्ली वालों के वोट की मार जीरो है’। अरविंद केजरीवाल ने कहा शीला दीक्षित जी अगर आपने 15 साल दिल्ली को ठीक से चलाया होता तो आप जीरो पर ना होतीं। केजरीवाल ने कहा है कि वह दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा दिलाने के लिए सर्वप्रथम तो हस्ताक्षर अभियान चलाएगी उसके बाद अरविंद केजरीवाल एक पत्र लिखेंगे जिसको आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता घर-घर जाकर पहुंचाएंगे और इस अभियान के लिए करीब 1000000 लोगों को इकट्ठा किया जाएगा जिसके बाद तकरीबन 10 लाख लोगों के द्वारा लिखे गए पत्रों को लेकर वह नरेंद्र मोदी के पास जाएंगे।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram