छिन सकता है अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी से “झाड़ू”

आम आदमी पार्टी की मुश्किलें धीरे-धीरे बढ़ती ही जा रही हैं और  पार्टी के प्रमुख अरविंद केजरीवाल का सर दर्द भी बढ़ता जा रहा है। पिछले दिनों जहां धीरे-धीरे अरविंद की पार्टी आप के सभी नेताओं ने इस्तीफा देना शुरु कर दिया है तो वहीं अब चुनाव आयोग ने AAP को नोटिस जारी करके एक और सरदर्द पैदा कर दिया है। चुनाव आयोग ने नोटिस भेजते हुए आम आदमी पार्टी से सवाल किया है कि क्यों न उनका चुनाव चिन्ह छीन लिया जाए ? आयोग ने नोटिस में AAP से उस पर कार्रवाई न करने की वजह भी पूछी है।

चुनाव आयोग ने आम आदमी पार्टी से पूछे सवाल-

2014-15 के एक मामले में आम आदमी पार्टी की मुश्किलें बढ़ती ही चली जा रही है। दरअसल, इनकम टैक्स विभाग की रिपोर्ट चुनाव आयोग को भेजी गई थी जिसके आधार पर चुनाव आयोग ने आम आदमी पार्टी को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। नोटिस में सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्सेज यानी सीबीडीटी की भेजी रिपोर्ट के आधार पर आम आदमी पार्टी पर आरोप है कि उसने साल 2014-15 में चंदे के मामले में पारदर्शिता के चुनाव आयोग के नियमों का उल्लंघन किया है​। चुनाव आयोग ने साल 2014-15 में आम आदमी पार्टी को मिले चंदे के मामले में जारी नोटिस में पूछा है कि क्यों न उस पर कार्यवाही की जाए ? क्यों न पार्टी का चुनाव चिन्ह (झाड़ू) छीन लिया जाए ? AAP की ओर से इस मामले में आयोग को नोटिस का जवाब देना है। फिलहाल AAP नेताओं की ओर से अभी इस बारे में कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। इस मामले में चुनाव आयोग ने  20 दिन के भीतर चुनाव आयोग को जवाब देने को कहा है।

जानकारी के लिए आपको बता दें कि चंदे की जानकारी छुपाई गई- आम आदमी पार्टी के बैंक खाते में 67.67 रुपये क्रेडिट हुए जबकि पार्टी ने अपने खातों में 54.15 करोड़ रुपए ही दिखाए यानी 13.16 करोड़ रुपए का हिसाब नहीं मिला और यह अज्ञात स्रोतों से माने गए। हवाला कारोबारी से पैसा रिपोर्ट में कहा गया है कि आम आदमी पार्टी ने 2 करोड रुपए हवाला ऑपरेटर से लिए और इनको चंदे के रुप में दिखाया। अपनी वेबसाइट पर और चुनाव आयोग को गलत जानकारी- रिपोर्ट में कहा गया है कि आम आदमी पार्टी ने अपनी वेबसाइट पर और चुनाव आयोग को चंदे की गलत जानकारी दी।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram