जम्मू कश्मीर में फिर से हो सकता है महबूबा मुफ्ती का राज़, कांग्रेसी नेताओं से चल रही है बातचीत –

जम्मू कश्मीर में बीते दिनों भाजपा ने पीडीपी सरकार से अपना समर्थन वापस ले लिया था जिसके बाद महबूबा मुफ्ती की सरकार गिर गई थी और इस समय जम्मू कश्मीर राज्य में राज्यपाल शासन लगा हुआ है और इसकी कमान गवर्नर एन एन वोहरा के हाथों में हैं। इसी बीच खबर आ रही है कि कांग्रेस और पीडीपी के बीच गठबंधन के आसार नजर आ रहे हैं।

पीडीपी और कांग्रेसी नेताओं में गठबंधन को लेकर चल रही है बातचीत-

मिली जानकारी के मुताबिक जम्मू कश्मीर राज्य में एक बार फिर से महबूबा मुफ्ती मुख्यमंत्री बन सकती हैं और इस कड़ी में आगे बढ़ने के लिए पीडीपी और कांग्रेसी नेताओं के बीच गठबंधन करके फिर से सरकार बनाने की कवायद की जा रही है खबर है कि पीडीपी और कांग्रेसी नेताओं के बीच आने वाली 3 जुलाई को उच्च स्तरीय बैठक बुलाई गई है जिसमें जम्मू कश्मीर के नेता ,एमएलसी, सभी विधायक राज्यसभा में विपक्ष के नेता, वरिष्ठ कांग्रेसी नेता पूर्व मंत्री व वरिष्ठ कांग्रेसी नेता गुलाम नबी आजाद और अंबिका सोनी जैसे दिग्गज हस्तियां शामिल होंगी उम्मीद जताई जा रही है कि इस बैठक के बाद जम्मू कश्मीर में पीडीपी और कांग्रेस के बीच गठबंधन के बाद महबूबा मुफ्ती राज्य में दोबारा मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेंगी।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार राज्यपाल शासन की समय सीमा ख़त्म होने से पहले अगर बात बन सकती है तो पीडीपी और कांग्रेस पार्टी सामने आकर इस पर बातचीत करके राज्य में दोबारा से सरकार बनाना चाहती है। गौरतलब है कि जम्मू कश्मीर राज्य में हिंसा बढ़ने के कारण और उग्रवादियों के खिलाफ कोई कार्यवाही ना होने के कारण BJP सरकार ने अपने समर्थन पीडीपी सरकार से वापस ले लिया था। जिसके बाद महबूबा मुफ्ती को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा था जिसके बाद से जम्मू कश्मीर राज्य में राज्यपाल शासन लागू है। आंकड़ों के मुताबिक बैठक के बाद नतीजे सबके सामने होंगे और यह बात भी दिलचस्प होगी कि क्या महबूबा मुफ्ती दोबारा से सुबे की मुख्यमंत्री बनेंगी या नहीं।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram