नमाज़ के दौरान फारुख अब्दुल्ला के साथ की गई बदसलूकी, यहां तक जूते भी उछाले गए

‘भारत माता की जय’ यह जयकारा जब जब लगता है तब तब भारत देश के वासियों में देश भक्ति की भावना और भी शक्तिशाली हो जाती है, लेकिन इसी नारे को लेके अब भारत के लोगों में ही नफ़रत फैल रही है। यह मुद्दा जम्मू कश्मीर का है। दरअसल जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नैशनल कांग्रेस अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला को ‘भारत माता की जय’ और ‘जय हिंद’ नारा लगाने के बाद बदसलूकी का सामना करना पड़ रहा है। आज बकरीद के मौके पर कश्मीर के मस्जिद में नमाज़ अदा करने पहुंचे फारूक अब्दुल्ला का विरोध हुआ और उनके साथ धक्कामुक्की की गई। बदसलूकी तक तो फिर भी ठीक था, लेकिन हालात इतने बिगड़ गए थे कि फारुख अब्दुल्ला के ऊपर जूते भी उछाले गए हैं।

फारुख अब्दल्ला पर जूते उछाले गए-

बकरीद की नमाज़ के बाद फारुख अब्दुल्ला ने भारत माता जय के भी नारे लगाए, वहीं कट्टर पंथियों ने फारुख की इस बाद से नाराज़ हो गए और उनके साथ बदसलूकी की और उनके ऊपर जूते तक उछाले दिए। इस दौरान फारूक चुपचाप बैठे रहे, लेकिन बाद में विरोध बढ़ने पर मस्जिद से चले गए। इसके बाद फारुख ने  पत्रकारों को बयान दिया कि अगर सिरफिरे लोगों को लगता है कि फारूक डर जाएगा तो उनकी गलती है। मुझे ‘भारत माता की जय’ कहने से कोई नहीं रोक सकता।’ फारूख ने आगे कहा कि ‘मैं डरा नहीं हूं। प्रदर्शनकारियों के इस रवैये से मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता। भारत आगे जा रहा है और कश्‍मीर को भी अपने पैरों पर खड़ा होना होगा। उन्हें अगर ऐसा करना था तो कोई दूसरी जगह और वक्त चुनते। नमाज के वक्त ऐसा करना सही नहीं था।’

दरअसल ईद-उल-अजहा के मौके पर हजरतबल मस्जिद में फारूक अब्दुल्ला के अलावा स्थानीय लोग सैकड़ों की संख्या में इकट्ठा हुए थे। इससे पहले कि नमाज शुरू होती और इमाम लोगों को संबोधित करते अचानक लोगों ने शोर मचाना शुरू कर दिया और फारूक के खिलाफ नारेबाजी करने लगे। थोड़ी ही देर में धक्का-मुक्की भी शुरू हो गई। बताया जा रहा है कि कुछ लोगों ने मौजूद लोगों ने उनके खिलाफ नारे लगाए तो वहीं कुछ ने जूते भी उछाले। मामला बिगड़ने के बाद फारूक से मस्जिद से चले जाने को कहा।

आपको बता दें कि हाल में ही पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की श्रद्धांजलि सभा में फारुख अब्दुल्ला ने भारत माता की जय और जय हिंद के नारे लगाए थे जिसकी वजह से कश्मीर के कुछ लोगों ने उनका विरोध किया और उनसे यह बदसलूकी है। लेकिन गौर करने की बात यह है कि यह सब लोग भारत में ही रहते है और भारत माता की जय बोलने से कतराते हैं। यह तो वही बात हुई कि जिस थाली में खाया उसी में छेद कर दिया।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram