पीएम की मिदनापुर रैली में गिरा टेंट जिससे हुए 15 ज़ख़्मी , अस्पताल में मिलने पहुंचे मोदी

Capture 2

पश्चिम बंगाल के मिदनापुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली में लगे टेंट गिरने के कारण 15 लोग घायल हो गए | एसपीजी जवानों और पीएम मोदी की सुरक्षा में तैनात डॉक्टरों ने तम्बू के नीचे दबे लोगों की सहायता की और उन्हें अस्पताल ले जाया गया। रिपोर्टों के मुताबिक, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद घायल लोगों की चोटों के लिए अस्पताल में भर्ती होने के लिए गए पहुंचे| गौरतलब है कि भाषण शुरू होने से पहले पीएम मोदी ने पेड़ पर चढ़े कुछ लोगों को उतरवाया था|

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रैली में पश्चिम बंगाल सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि बंगाल में अभी लेफ्ट से भी बदतर हालात हैं और राज्य में बस भाजपा ही सुशासन दे सकती है|

साथ ही पीएम मोदी ने कहा, ‘मेरी सरकार आपकी सरकार है, यह किसानों की सरकार है। हमारी सरकार 2022 तक किसानों की आय दुगुनी करने की दिशा में काम कर रही है। बीजेपी की सरकार बनने के बाद लागत का डेढ़ गुना एमएसपी देने का ऐलान हमारी सरकार ने किया है।’

शुक्र की बात है कि एक बहुत बड़ा हादसा टालने से बच गया| दरअसल मोदी जब सभा को सम्बोधित कर रहे थे तभी रैली के लिए बने पांडाल का एक हिस्सा गिर पड़ा जिससे 15 लोगों टेंट के नीचे दब गए जिसके बाद मोदी ने तुरंत अपना भाषण बीच में रोका और अपनी सहयोगी टीम से मदद करने को कहा| इस हादसे का अभी तक कारण स्पष्ट नहीं हुआ है लेकिन इसके पीछे प्रथम दृस्ता कारण उमड़ी आदिक तादाद में भीड़ को बताया जा रहा है| शुरुआत में जहाँ 7 लोगों के ज़ख़्मी होने की बात सामने आयी तो वह कुछ ही देर में 15 तक जा पहुंचा और इन सभी को अस्तपाल में भर्ती करवाया गया जहाँ पीएम खुद इनसे मिलने गए|

सोशल मीडिया में जहाँ भाजपाई पक्ष इसे ममता बनर्जी  की सत्ता पार्टी तृणमूल कांग्रेस की साजिश बता रहे तो वहीँ विपक्षी मोदी के भाषण रद्द न करने को लेकर उनकी असंवेदनहीनता को आड़े हाथों ले रहे है और यहाँ तक कटाक्ष कर दिया जा रहा है कि यह काम पीएम ने खुद करवाया हो|

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram