भगोड़े विजय माल्या ने किया बड़ा खुलासा, वित्त मंत्री अरुण जेटली से आखरी मुलाकात

शराब कारोबारी विजय माल्या के प्रत्यर्पण के मामले में चल रही सुनवाई के दौरान माल्या ने एक बयान देकर बड़ा धमाका कर दिया है। उन्होंने कहा कि ‘मैं इसलिए विदेश आया क्योंकि जैनेवा में मेरी मीटिंग थी। मैं देश छोड़ने से पहले अरुण जेटली से मिला और उनके सामने बैंकों से समझौता करने का प्रस्ताव भी दिया।’ माल्या ने कहा कि ‘मैं राजनीतिक फुटबॉल हूं और मेरा विवेक स्पस्ट है।’ माल्या ने कहा कि वह अपना बकाया चुकाने के लिए तैयार हैं।

भगोड़े विजय माल्या ने किया बड़ा खुलासा-

भारतीय बैंकों का करीब 9 हजार करोड़ का लोन लेकर भागे विजय माल्या ने बुधवार को चौंकाने वाला खुलासा करते हुए बताया कि वो देश छोड़ने से पहले कई बार वित्त मंत्री अरुण जेटली से मिले थे। लंदन स्थित वेस्टमिंस्टर कोर्ट में सुनवाई के दौरान भारत के अधिकारियों ने मुंबई की आर्थर रोड जेल में माल्या को रखने के लिए तैयार सेल का विडियो पेश किया। पत्रकारों ने माल्या से सवाल पूछा कि कोई क्यों पैसों के लेन-देन का मामला निपटाने से कोई क्यों मना करेगा? जबकि आप सांसद में थे? इस सवाल के जवाब में माल्या ने कहा कि आपको जानकार दिलचस्पी होगी की बैंकों ने कोर्ट में मेरी लोन निपटारे की याचिका का विरोध किया था। आपको उनसे पूछना चाहिए कि वो क्यों मेरे लोन निपटारे का विरोध कर रहे थे।  कोर्ट में सुनवाई के बाद पत्रकारों ने जब वित्त मंत्री से मुलाकात को लेकर सवाल पूछा तो माल्या ने कहा कि वह इस मीटिंग के बारे में विस्तार से जानकारी नहीं दे सकते हैं। वहीं दूसरी ओर  वित्त मंत्री अरुण जेटली ने फेसबुक पोस्ट के जरिए विजय माल्या से मिलने के दावों को गलत करार दिया है। अरुण जेटली ने कहा कि मैने 2014 के बाद उन्हें कभी मुझसे मिलने की अपाइनमेंट नहीं दी। तो फिर मेरी और उनकी मुलाकात का तो कोई सवाल ही पैदा नहीं होता।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram