मंत्री को लेने प्लेटफार्म पर पहुंची चारपहिया वाहन

केंद्र की मोदी सरकार भले ही चारों ओर इस बात का प्रचार प्रसार कर रही हो कि वह देश से  वीवीआईपी कल्चर खत्म करने के लिए बहुत ही तत्पर है, लेकिन खुद उनके ही पार्टी के मंत्री वीवीआईपी कल्चर के नशे में इस तरह धुत्त हैं कि वह नियमों की धज्जियां उड़ाते हुए कुछ भी करने को तैयार हैं। कुछ ऐसा ही  मामला हुआ मध्यप्रदेश के ग्वालियर में जहां पर भारतीय जनता पार्टी की के राज्य खेलमंत्री को लेने के लिए उनकी कार प्लेटफार्म तक जा पहुंची।

किस मंत्री को प्लेटफार्म पर लेने पहुंची कार – 

मध्य प्रदेश की जिस मंत्री को कार लेने के लिए प्लेटफार्म तक पहुंची थी दरअसल उनका नाम यशोधरा राजे सिंधिया है। नियमों को ताक पर रखते हुए उनकी कार स्टेशन पर पहुंची तो वह सारे नियमों को तोड़ते हुए प्लेटफार्म तक पहुंच गई, और वहां पर यशोधरा राजे सिंधिया बाकायदा कार में बैठकर निकल भी गईं। वही जा सारा मामला स्टेशन पर लगे सीसीटीवी कैमरे में रिकॉर्ड हो गया जिसके बाद मामले ने तूल पकड़ ली जब इस बारे में यशोधरा राजे सिंधिया से पूछा गया कि क्या उन्हें प्लेटफार्म के नियमों के बारे में पता नहीं है तो उन्होंने कहा कि उन्हें इस बारे में कोई भी जानकारी नहीं थी। ग्वालियर स्टेशन के बाहर साफ-साफ नियमों को पढ़ने पर बताया गया है कि इस तरीके की हरकत करने पर ₹500 जुर्माने का प्रावधान भी है।

फिलहाल सत्ताधारी सरकार का कहना है कि या एक मामूली बात है और मीडिया को इस बात पर इतना जोर नहीं देना चाहिए। गौरतलब है कि यशोधरा राजे सिंधिया ट्रेन से ग्वालियर पहुंची थी। और मंत्री जी को दो कदम चलने की ज़हमत ना उठानी पड़े इसलिए उनके ड्राइवर ने नियमों को तोड़ते हुए चार पहिया वाहन को प्लेटफार्म तक ले जाकर खड़ा कर दिया।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram