मनीष सिसोदिया के एक्शन के बाद केंद्र का एक्शन

दिल्ली सरकार के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया और केंद्र सरकार के बीच हुई खींचातानी का अंदाजा इसी बात से लगा सकते हैं कि वर्ल्ड इजुकेशन डे पर डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया को मॉस्को जाकर एक कार्यक्रम में हिस्सा लेना था और यह प्रक्रिया अभी तक केंद्र सरकार के द्वारा प्रोसेस में ही चल रही है। जिसको लेकर जब मनीष सिसोदिया ने केंद्र सरकार को आड़े हाथों लिया तब केंद्र सरकार ने भी इस पर एक्शन लिया।

मनीष सिसोदिया ने ट्वीट के जरिए की शिकायत – 

दिल्ली सरकार के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने ट्वीट के जरिए कहा कि उन्हें मॉस्को में, वर्ल्ड एजुकेशन डे के संदर्भ में एक कार्यक्रम में आमंत्रित किया गया था, लेकिन उन्होंने मॉस्को जाने के लिए केंद्र सरकार में अपनी अर्जी दी थी जो कि पिछले 10 दिनों से प्रोसेस में ही चल रही है वहीं उन्हें मॉस्को के लिए आज रात ही निकलना था। इस पर कोई भी एक्शन केंद्र सरकार की ओर से अभी तक नहीं लिया गया था। वहीं मनीष सिसोदिया के ट्वीट करने के 2 घंटे बाद ही केंद्र सरकार की ओर से इस मामले का निपटारा कर दिया गया और उनको मॉस्को जाने की जो प्रक्रिया लंबित थी उसे अनुमति दे दी गई।

मनीष सिसोदिया के ट्वीट के बाद एक और मामला सामने आया जिसमें, आप नेता अंकित लाल ने भी डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया के पक्ष में ट्वीट कर लिखा कि मनीष सिसोदिया को मॉस्को जाने से रोका जाना शर्मनाक है। उन्होंने कहा कि हम अगर विदेश जाते हैं तो भारत का प्रतिनिधित्व करते हैं ना कि किसी खास पार्टी के प्रतिनिधि के तौर पर जाते हैं। आशा करता हूं कि भारत सरकार थोड़ी बेहतर राजनीतिज्ञता दिखाएगी। हालांकि केंद्र सरकार ने तुरंत कार्यवाही करते हुए इस मामले का निपटारा कर दिया है कि कोई और विवाद न उत्पन्न हो।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram