मुजफ्फरपुर कोर्ट में दर्ज हुई गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी और अल्पेश ठाकुर के खिलाफ एफआईआर

गुजरात में 14 महीने की बच्ची के साथ हुए दुष्कर्म के बाद, गुजरात से गैर गुजरातियों यानी बिहार और उत्तर प्रदेश के लोगों जलील कर उन्हें मारपीट कर भगाया जा रहा। गुजरात के इस व्यवहार विरोध पूरा देश कर रहा है वहीं इसके खिलाफ भी बिहार में कई राजनीतिक दल के नेता भी कदम उठा रहे हैं। वहीं, इस मामले में गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी और बिहार कांग्रेस के सह प्रभारी और विधायक अल्पेश ठाकोर पर मुजफ्फरपुर कोर्ट में केस दर्ज किया गया है।

मुजफ्फरपुर में f. I. R. हुई दर्ज-

गुजरात में जहां बिहारियों को मारपीट कर भगाया जा रहा है तो वहीं दूसरी ओर बिहार में भी गुजरातियों का पुरजोर विरोध किया जा रहा है और उनके खिलाफ एक से एक एक्शन लेने की तैयारी की जा रही है। इसी कड़ी में अब बिहार के मुजफ्फरपुर जिले में गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी और कांग्रेस विधायक अल्पेश ठाकुर पर केस दर्ज करा कर मुकदमा दायर कर दिया गया है। वहीं, कोर्ट में केस दर्ज करने वाले सामाजिक कार्यकर्ता तमन्ना हाशमी ने कहा कि गुजरात के सीएम और अल्पेश ठाकोर की मिलीभगत से यह सब हो रहा है। वहां बिहारियों पर जुल्म हो रहा है। ऐसा लग रहा है कि वो गुजरात में नहीं बल्कि पाकिस्तान में रह रहे हों। उनके साथ ऐसा व्यवहार हो रहा है जैसे वो भारत के नागरिक ही नहीं हैं। सामाजिक कार्यकर्ता तमन्ना हाशमी ने कहा कि वो इसी से आहत होकर मुजफ्फरपुर सीजेएम कोर्ट में केस करने पर मजबूर हुए हैं। उन्होंने कहा कि कोर्ट में केस दर्ज करने बाद उसे कोर्ट ने एक्सेप्ट भी कर लिया है। इसके लिए कोर्ट ने सुनवाई के लिए 2 नवंबर का डेट भी दिया है। उस दिन कोर्ट में सुनवाई होगी।

अब इस मामले में देखना यह दिलचस्प होगा कि मुजफ्फरपुर कोर्ट में विजय रुपाणी और अल्पेश ठाकुर के खिलाफ क्या आरोप लगाए जाते हैं और कोर्ट उन्हें क्या सजा सुनाती है। इस वजह से ही यह तय हो पाएगा कि बिहारियों को इंसाफ मिला है या नहीं।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram