वीरांगना फूलन देवी शहादत समारोह में सन ऑफ़ मल्लाह ने कहा निषादों के अधिकार के लिए महिलाओं की भूमिका पुरुषों से कम नहीं !

आज पटना के श्री कृष्णा मेमोरियल होल में के द्वरा वीरांगना फूलन देवी शहादत दिवस समारोह का आयोजन किया गया जिस में सूबे के सभी जिले से महिला कायकर्ता ने भाग लिया  तथा निषाद क्रांति की सफलता में समाज की माता-बहनों का योगदान अत्यंत अहम रहा है. निषाद आरक्षण की राह प्रशस्त करने में वे कंधे-से-कंधे मिलाकर चली हैं. हक़-अधिकार की लड़ाई में हर मोर्चे पर समाज की महिलाऐं आगे रही हैं. निषादों के अधिकार के लिए हमारे संघर्ष में उनकी भूमिका पुरुषों के बराबर ही महत्वपूर्ण रही है. उक्त बातें निषाद विकास संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष सन ऑफ़ मल्लाह श्री मुकेश सहनी ने पटना के एसके मेमोरियल हॉल में निषाद विकास संघ के महिला कार्यकर्ता सम्मलेन को संबोधित करते हुए कहा.

कायक्रम में सन ऑफ़ मल्लाह के नेतृत्व में 10000 से अधिक महिलाओं ने वीरांगना फूलन देवी की 25 फीट की प्रतिमा के साथ पैदल मार्च निकालकर अपनी शक्ति का परिचय दिया. अभियंता भवन से वीरचंद पटेल पथ. इनकम टैक्स गोलंबर तथा डाकबंगला चौराहा होते हुए श्रीकृष्ण मेमोरियल हॉल तह विशाल पैदल मार्च निकाला गया. इस तरह सन ऑफ़ मल्लाह के नेतृत्व में निषाद समाज की महिलाओं ने कीर्तिमान स्थापित किया है. गौरतलब है कि सभी महिलाओं ने एक ही परिधान में पैदल मार्च किया. कार्यक्रम की विशेषता रही कि सभी महिलाऐं लाल कलर की साड़ी में थी. साथ ही सबसे सर पर संगठन की लाल पगड़ी तथा हाथ में झंडा और गले में गमछा था.

पैदल मार्च में हजारों पुरुष भी शामिल हुए. साथ ही हजारों मोटरसाईकल तथा सैकड़ों चार पहिया वाहन के सन ऑफ़ मल्लाह के नेतृत्व में निषाद समाज ने पटना में निषाद क्रांति का बोलबाला स्थापित किया.  पैदल मार्च के पश्चात एसके मेमोरियल हॉल में वीरांगना फूलन देवी को श्रद्धांजलि देने के पश्चात सन ऑफ़ मल्लाह ने महिला कार्यकर्ता सम्मलेन को संबोधित किया.

सम्मलेन को संबोधित करते हुए सन ऑफ़ मल्लाह ने जानकारी दी कि *26 जुलाई से पुरे बिहार में घर वापसी अभियान चलाया जाएगा. इसके तहत दूसरी पार्टी में शामिल निषाद भाइयों को फूल का गुलदस्ता देकर निषाद विकास संघ में शामिल करवाया जाएगा.

साथ ही आरक्षण नहीं मिलने की स्थिति में 26 अगस्त से पटना से हम ‘निषाद आरक्षण संवाद यात्रा’ की शुरुआत करेंगे. इसके तहत प्रदेश के प्रत्येक जिलों में समाज के लोगों के बीच जाकर हक़-अधिकार की लड़ाई को घर-घर तक पहुँचाया जाएगा. साथ ही 7 अक्टूबर को पटना के गाँधी मैदान में लाखों लोगों की उपस्थिति में ‘निषाद आरक्षण महारैला’ कर पार्टी के नाम की घोषणा की जाएगी.

सममेलन में संघ की प्रदेश महिला उपाध्यक्ष श्रीमती स्वर्णलता सहनी, बेगूसराय महिला जिलाध्यक्ष श्रीमती सुभद्रा भारती, कटिहार महिला जिलाध्यक्ष श्रीमती चंदा कुमारी निषाद, श्रीमती मनोरमा देवी, श्रीमती किरण बिंद, श्रीमती कुमारी नीलम, प्रदेश महिला उपाध्यक्ष श्रीमती सुधा चौहान, खगडि़या जिलाध्‍यक्ष श्रीमती सविता निषाद, कैमूर महिला जिलाध्यक्ष श्रीमती विजयंता बिंद, श्रीमती रेणु देवी बम्पर, श्रीमती अन्‍नू कुमारी बिंद, श्रीमती ममता चौहान, श्रीमती निर्मला सहनी, श्रीमती राजपति देवी, श्रीमती शारदा देवी उर्फ वीणा देवी, श्रीमती मीना भारती सहित संघ के राज्य की तमाम महिला पदाधिकारी उपस्थिति रहीं.

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram