सर्जिकल स्ट्राइक का वीडियो जारी होने के बाद, मायावती ने मोदी सरकार को बताया षड्यंत्रकार

सर्जिकल स्ट्राइक का वीडियो जारी कर दिया गया है जिसको लेकर बयान बाजी हो रही है तो कुछ राजनीतिक पार्टियों में चुप्पी का माहौल है, जो कह रही थीं कि  सर्जिकल स्ट्राइक नहीं बल्कि फर्जिकल स्ट्राइक भारत में हुई है। लेकिन इसी सिलसिले में आगे बढ़ते हुए बसपा सुप्रीमो मायावती ने भाजपा को आड़े हाथों लेकर  कहा कि भाजपा चुनाव से ठीक पहले ऐसा वीडियो जारी करके राजनीतिक लाभ लेना चाहती है। वह चाहती है की जनता इस वीडियो को देखने के बाद भाजपा की विफलताओं से ध्यान हटा ले ताकि भाजपा लोकसभा चुनाव 2019 के लिए अपना स्वार्थ सिद्ध कर सके।

बसपा सुप्रीमो ने कहा, षड्यंत्रकार है भाजपा –

बसपा सुप्रीमो मायावती ने सर्जिकल स्ट्राइक के वीडियो जारी होने पर कहा कि, ‘अगर उन्हें सुबूत पेश ही करना था तो वह उस वक्त करते जब सर्जिकल स्ट्राइक कराई गई थी लेकिन भारतीय जवानों ने जिस तरीके से पाकिस्तान की सीमा में घुसकर दुश्मनों का सफाया किया था उसकी सब ने तारीफ की थी। इस घटना के सबूत ना तब मांगे गए थे और ना ही अब,  तो लोकसभा चुनाव से ठीक पहले सर्जिकल स्ट्राइक का वीडियो जारी करना क्या राजनीतिक षड्यंत्र नहीं है ?दूसरी ओर भाजपा को इस बाबत राजनीतिक पार्टियों के द्वारा आए दिन आड़े हाथों लिया जा रहा था कि भाजपा सर्जिकल स्ट्राइक का गुणगान कर रही है जबकि ऐसा कुछ हुआ ही नहीं है जिसको लेकर अब सर्जिकल स्ट्राइक का वीडियो जारी किया गया है।

मायावती ने नोटबंदी पर भी बीजेपी को लताड़ा – 

मायावती ने पहले तो सर्जिकल स्ट्राइक के वीडियो को लेकर भड़ास निकाली ही निकाली, साथ ही साथ उन्होंने नोटबंदी और जीएसटी को लेकर भी भाजपा सरकार को जमकर लताड़ा। मायावती ने कहा बिना तैयारी के देश में नोटबंदी और जीएसटी जैसी व्यवस्था लागू करने के बाद मोदी सरकार अपने आप को हर मोर्चे पर विफल पा रही है, जिसके बाद वह जनता का ध्यान अपनी विफलताओं से हटा देना चाहती हैं।

गौरतलब है कि भारतीय सेना ने 29 सितंबर 2016 को पाकिस्तान की सीमा में घुसकर पाकिस्तानी बंकरों को तबाह कर दिया गया था जिसका वीडियो भारतीय सेना ने शुक्रवार को जारी किया था। 8 मिनट के इस वीडियो में ड्रोन से फिल्माए गए पूरे घटनाक्रम में साफ साफ दिखाई दे रहा है कि भारतीय सेना पाकिस्तानी बंकरों को एक के बाद एक तबाह कर रही है। वहीं इस वीडियो के जारी होने के बाद राजनीतिक गलियारों में चर्चा है कि भाजपा इस वीडियो का फायदा 2019 के लोकसभा चुनाव में लेना चाहती है।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram