NSG सदस्य बनने के लिए भारत को इस देश ने दिया समर्थन

भारत को एनएसजी की सदस्यता दिलाने के लिए हर बार की तरह इस बार भी ब्रिटेन ने समर्थन देने की बात है, लेकिन भारत को एनएसजी की सदस्यता मिलने पर एनएसजी के कुछ सदस्य देशों को इस बात पर नाराजगी है कि भारत देश जो कि विकास की ओर लगातार अग्रसर है और जिसकी तरक्की में रोज इजाफा हो रहा है वह एनएसजी की सदस्यता अगर ना हासिल कर सके तो ज्यादा ही अच्छा होगा। क्योंकि एनएसजी सदस्यता हासिल करने के बाद भारत के पास एक और बड़ी ताकत हो जाएगी लेकिन भारत को एनएसजी की सदस्यता ना मिल पाए इसलिए एक देश की वजह से इसमें मुश्किलें आ रही हैं।

यह देश खड़ा कर रहा है मुश्किलें – 

भारतीय विदेश मंत्रालय और ब्रिटेन के फॉरेन एंड कॉमनवेल्थ ऑफिस के अधिकारियों के बीच हुई बातचीत की जानकारी देते हुए राजनयिक सूत्रों ने कहा है कि ब्रिटेन ने भारत को बिना शर्त एनएसजी सदस्य बनने के लिए समर्थन दिया है क्योंकि ब्रिटेन का मानना है कि भारत के पास वह सारी योग्यता है जो एक एनएसजी सदस्य देश के पास होनी चाहिए तो भारत को मिशन दे एनएसजी की सदस्यता मिलने के लिए हमारी तरफ से कोई भी आपत्ति नहीं है। दूसरी ओर चीन को भारत का निजी सदस्य बनाए जाने को लेकर हमेशा पति रही है और इस बार भी चीन आपत्ति जताने के लिए तुला हुआ है।

गौरतलब है कि हाल ही में टू प्लस टू वार्ता के दौरान कहा गया था कि अमेरिका ने भारत के साथ इस बात पर रजामंदी जाहिर की थी कि अमेरिका भारत को एनएसजी सदस्य बनाए जाने का समर्थन करेगा। वहीं राजनयिक सूत्रों ने यह भी कहा है कि इस बात की जानकारी चीन है स्पष्ट कर सकता है कि आखिर भारत को एनएसजी सदस्य बनाए जाने पर चीन को क्या एतराज है ?

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram