क्या दिल्ली में होगा नीतीश कुमार और अमित शाह का मुकाबला?

जब से प्रशांत किशोर ने नीतीश कुमार का हाथ पकड़ा है तब से नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू और नीतीश के तेवर बदले बदले से नजर आ रहे हैं। यह माना जा रहा है कि दोनों मिलकर अपनी अलग रणनीति बनाएंगे और नए तौर तरीके से सप्ताह में शामिल होंगे और अपनी पकड़ मजबूत बनाने का प्रयास करेंगे। इसी कड़ी में अब नीतीश कुमार दौरे पर चल रहे हैं और सूत्रों के मुताबिक यह माना जा रहा है कि नीतीश दिल्ली में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह सहित कई बड़े नेताओं से मुलाकात कर सकते हैं।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का होगा मुकाबला राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से-

प्रशांत किशोर के जदयू में शामिल होने के बाद बिहार की सियासत में रंग आ गया है। अब यह उम्मीद लगाई जा रही हैं कि जेडीयू बीजेपी के साथ बिहार की रणनीति पर अलग तरीके से चर्चा कर सकती है। सीएम अगले दो से तीन दिन तक दिल्ली में ही रहेंगे। ऐसे में उनके एनडीए के कई नेताओं से मिलने की संभावना है।  जानकारी के लिए  बता दें कि इससे पहले जदयू राज्य कार्यकारिणी की बैठक 16 सितंबर को हुई थी। ऐसे में बैठक के एक दिन बाद सीएम का दिल्ली दौरा किसी रणनीति के तहत ही लगता है। कई राज्यों में चुनाव होना है पार्टी काफी समय से राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ में अपने संगठन के विस्तार पर काम कर रही है।  दिल्ली दौरे के दौरान नीतीश इन राज्यों में पार्टी कितनी सीटों पर चुनाव लड़ेगी इस पर भी मंथन कर सकते हैं। वहीं, इस मुद्दे पर पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव के सी त्यागी ने कहा कि नीतीश दिल्ली में अपना इलाज कराने जा रहे हैं। अमित शाह से मिलने की बात पर सी त्यागी ने कहा नीतीश कुमार और अमित शाह की बातचीत पहले भी हो चुकी है। फिलहाल अमित शाह दिल्ली में नहीं हैं। ऐसे में मिलने की संभावना कम ही है।

वही जब से प्रशांत किशोर ने नीतीश कुमार के साथ हाथ मिलाया है तब से विपक्षी दल की पार्टियां अपनी कमर कसी हुई है कि आने बाली लोकसभा चुनाव 2019 में पार्टी की कैसे जीत करानी है और बहुमत प्राप्त कर कर सत्ता में अपना कदम जमाना है।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram