इस साल की भयंकर बाढ़ से पीड़ित सभी राज्यों की पूरी जानकारी

इस साल का मानसून काफी भयानक गुजरा है, पूरे देश में त्राहि त्राहि मच मची हुई है। जिधर देखो उधर सिर्फ पानी ही पानी है, किसी के मकान टूटे हैं कुछ लोग घर से बेघर हुए हैं कुछ परिवारों ने अपनों को खोया है तू कुछ नहीं अपनी जमीन अपनी खेती बाड़ी अपना सब कुछ इस बायंकर तूफ़ान में खो दिया है। इस साल कई राज्य बाढ़ से त्रस्त हुए हैं, बढ़ ने सभी जगह तहलका मचा दिया है फिर चाहे वो पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, गुजरात, असम, नगालैंड और केरल। इन सभी राज्यो में जन धन की हनी के साथ साथ, पूरा पूरा गांव उजड़ गया है। गृह मंत्रालय की रिपोर्ट में मुताबिक मानसून के इस मौसम में सात राज्यों में बाढ़ और बारिश से जुड़ी घटनाओं में अभी तक 900 से ज़्यादा लोगों की मौत हो गई है।

2018 का मानसून रहा भयानक-

इस साल की मॉनसून में अब तक की सबसे भयंकर तूफानी बारिश हुई है वहीं कई राज्य ऐसे भी हैं जहां पर पूरा पूरा शहर ही उजड़ गया है। केरल में तो शायद ही ऐसा कोई घर हो जो इस तूफानी बारिश से लड़कर अब तक खड़ा हो। यह केरल में एक शताब्दी में आयी सबसे विकराल बाढ़ थी, जिसमें अबतक 373 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी हैं, और  2,80,679 से अधिक लोगों को बेघर होना पड़ा। दूसरी और उत्तर प्रदेश में लगातार नदियों का जल स्तर बढ़ रहा था। बाढ़ के कहर से हजारों लोग घर छोड़कर एक जगह से दूसरे जगह जाने के लिए मजबूर हैं। कई जिलों में प्रशासन द्वारा सैकड़ों गावों को हाई अलर्ट कर दिया गया है। यूपी में बांदा. बलिया, वाराणसी, सोनभद्र, इलाहाबाद, गाजीपुर और महोबा जैसे जिलों में बाढ़ का कहर लगातार जारी है। महोबा का बुरा हाल है। यहां 35 साल बाद बाढ़ ऐसी आई है, यहां पर लगभग आधा दर्जन तालाब लबालब हो गए थे। उत्तर प्रदेश में लगभग 171 लोगों के बाढ़ के कारण मौत हो जाने की खबर मिली हैं। पश्चिम बंगाल में 170 और महाराष्ट्र में 139 लोगों की जान गयी है। आंकड़ों में कहा गया है कि गुजरात में 52, असम में 45 और नगालैंड में आठ लोगों की मौत हुई है। इन सभी राज्यों में बारिश से जुड़ी घटनाओं में 245 लोग अबतक जख्मी हुए हैं।

बाढ़ से पीड़ित सभी राज्यों को राहत देने के लिए चलाई गई स्कीम-

 

इन सभी राज्य जो कि इस भयानक बाढ़ से पीड़ित हुए हैं उन सबके लिए रेस्क्यू टीम ने ऑपरेशन चलाया और ज्यादा से ज्यादा लोगों को बचाने की कोशिश की। इस तरह की तबाही पिछले 100 सालों में भी देखने को नहीं मिली है। वहीं, बाढ़ से पीड़ित लोगों को बचाने के लिए रेस्क्यू टीम ने ऑपरेशन चलाया और लोगों को बचाने का प्रयास किया इस ऑपरेशन में NDA आर्मी के जवान, RSS टीम, वहां के मछुआरों का भी बहुत बड़ा हाथ रहा है। कई जगहों पर नावे चलाई जा रही है ताकि लोग महफूज जगह पर पहुंच सके। वही दुनिया भर से सभी लोगों ने केरल और सभी जगहों पर बाढ़ से पीड़ित लोगों को मदद पहुंचाने के लिए थाने कपड़े कुछ धनराशि और जहां तक मदद हो सकती है सभी कर रहे हैं। चाहे वह बॉलीवुड के अभिनेता हो या फिर राजनीति के नेता या फिर हमारी आम जनता सब एक दूसरे की मदद करने के लिए एक साथ हाथ बढ़ाकर काम कर रहे हैं।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram