ट्राई के चीफ ने हैकरों को दी खुली चुनौती, कहा मेरा आधार हैक करके दिखाइए

आधार का डेटा कितना सुरक्षित है, यह साबित करने के लिए टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया (TRAI) के चेयरमैन आरएस शर्मा ने ट्विटर पर सायबर महारथियों को खुला आव्हान किया। अपना आधार नंबर सोशल मीडिया में सार्वजनिक करते हुए उन्होंने चुनौती दे डाली कि कोई उन्हें किस तरह नुकसान पहुंचा सकता है, वह जानना चाहते हैं, मालूम हो कि यूआईडीएआई के पूर्व महानिदेशक रहे शर्मा आधार कार्यक्रम के जबरदस्त समर्थकों में से एक रहे हैं और इसके सिस्टम के सुरक्षित होने का जिम्मा लेते रहे हैं।

शर्मा की चुनौती को ट्विटर यूजर्स की तरफ से जमकर प्रतिक्रिया भी मिली और दर्जनों यूजर्स ने उनके आधार नंबर से जुड़ा मोबाइल नंबर, उनकी निजी जीमेल आईडी, याहूमेल आईडी समेत उनके वोटर आईडी कार्ड में दर्ज जानकारियां तक सार्वजनिक कर दीं। इसके बाद यूनीक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (यूआईडीएआई) ने सफाई दी कि ट्राई प्रमुख राम सेवक शर्मा के आधार डेटाबेस से कोई भी सूचना लीक नहीं हुई है। यूआईडीएआई ने कहा कि वास्तव में तथाकथित हैक की गई सूचना पहले से ही सार्वजनिक है। हालांकि शर्मा के ट्विटर पर आधार नंबर डालने के बाद थोड़ी ही देर में उसे 577 बार रिट्वीट किया गया और 745 लोगों ने उसे लाइक किया। कई लोगों ने उन्हें 12 अंकों का आधार नंबर डालने के लिए ट्रोल किया। ट्राई चेयरमैन का पक्ष जानने के लिए उनसे बात की तो उन्होंने प्रतिक्रिया देने से साफ इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि चुनौतियों को कुछ वक्त के लिए चलने दें। बता दें कि पिछले एक साल में आधार से जुड़ी जानकारियां लीक होने की कई रिपोर्ट मीडिया में आई हैं और सुप्रीम कोर्ट ने इसकी संवैधानिकता पर अपना फैसला सुरक्षित किया हुआ है।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram