पेट्रोल और डीजल के दाम चरम सीमा के पार पहुंचे, जानिए क्या है कीमतें

पेट्रोल और डीजल की कीमतों पर एक बार फिर से कीमत बढ़ गई है और साथ हि साथ लोगों की परेशानियां भी बढ़ गई हैं। डीजल के दाम का रिकॉर्ड तो चरम सीमा पर है तो वहीं पेट्रोल के भी दाम में इजाफा हुआ है। दरअसल, पेट्रोल-डीजल की कीमत में बढ़ोतरी इसलिए हुई है क्योंकि

इस हफ्ते कच्चे तेल की कीमत में बढ़त आई है वहीं, डॉलर के मुकाबले रुपये का मूल्य भी घट गया है। जिसकी वजह से तेल कंपनियों को कच्चे तेल के लिए ज्यादा पैसे चुकाने पड़ते हैं।

पेट्रोल और डीजल के दाम में हुई बढ़ोतरी-

देश के कई महानगरों में पेट्रोल और कीमतों की दाम में बड़ा दिखाई दे रही है तो वहीं ,सबसे पहले भारत की राजधानी दिल्ली में डीजल 15 पैसे से बढ़कर 69.47 रुपये प्रति लीटर हो गया।  वहीं कोलकाता में डीजल 72.31 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है दूसरी और चेन्नई में डीजल की कीमत 73.38 रुपये प्रति लीटर के साथ रिकॉर्ड स्तरर पर पहुंच गई है। वहीं देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में डीजल के दाम बढ़े, यहां डीजल 73.74 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है। डीजल के साथ पेट्रोल के दाम भी बढ़े हैं लेकिन कीमत रिकॉर्ड स्तर तक नहीं पहुंची है। आज दिल्ली में पेट्रोल की कीमत में 13 पैसे की  बढ़ोत्तरी हुई जिसके बाद इसकी कीमत 77.91 रुपये तक पहुंच गई है।  सोमवार से पहले रविवार को भी दिल्ली में पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़े थे जिसके चलते डीजल की कीमत रिकॉर्ड स्तर तक पहुंच गई थी। रविवार को जहां डीजल दिल्ली में 69.32 रुपये प्रति लीटर बिका वहीं पेट्रोल की कीमत 77.38 रुपये प्रति लीटर रही।

पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ने पर कांग्रेस के नेता ने निशाना साधा मोदी सरकार पर-

पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़े हो और विपक्षी पार्टी ने पलट के कोई जवाब ना दिया हो ऐसा तो हो ही नहीं सकता है। इसी परंपरा को कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने निभाया और सीधे-सीधे मोदी सरकार पर निशाना साध दिया। रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट किया कि रेकॉर्ड स्तर पर डीजल की कीमत, पेट्रोल भी छू रहा आसमान! दिल्ली में डीज़ल की कीमत ₹ 69.51 और पेट्रोल ₹ 77.96, अन्य शहरों में डीज़ल ₹72 पार, जारी है महँगाई की मार, आम जनता के बजट पर हर-रोज़ प्रहार, कायम है चुनावी जुमलों की भरमार, चंद महीनों की मेहमान ये मोदी सरकार।

पेट्रोल और डीजल की कीमतों के बढ़ने के बाद तो सिर्फ जनता ही इस से लड़ती है और और अपनी मेहनत भरी कमाई से रोज बढ़ते घटते पेट्रोल के दामों को झेलती है। मोदी सरकार ने तो बड़े बड़े वादे किए थे लेकिन इन वादों के पीछे कोई खास असर  दिख नहीं रहा है तो जाहिर है कि कांग्रेस तो उन पर सवाल उठाएगी ही।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram