केंद्रीय मंत्री गिरिराज ने कहा, मुसलमानों ने फाड़ा था पोस्टर

शांति बहाल करने वाले लोगों को झूठे मुकदमे में प्रशासन ने फंसाया, केंद्रीय मंत्री ने गिरफ्तार हिंदू संगठन के नेताओं के परिजनों से की मुलाकात

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने हिंदू संगठन के नेताओं की गिरफ्तारी को लेकर एक बार फिर राज्य सरकार और प्रशासन पर हमला बोला है। उन्होंने कहा है कि शांति बहाल करने में मदद करने वाले लोगों को झूठे मुकदमे में फंसाया गया है। 2017 में मुसलमानों ने भगवान राम का पोस्टर फाड़ा था, दुकानों में आग लगाई थी। अकबरपुर में प्रतिमा को तोड़ा गया। वहीं हिंदू संगठन के नेता शांति बनाने में जुटे थे। लेकिन उन्हें ही गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने लोगों को उकसाने की कार्रवाई की है। शासन-प्रशासन को लगता है कि बहुसंख्यकों को दबाने से सामाजिक सद्भाव कायम होगा। केंद्रीय मंत्री ने दंगा भड़काने के आरोप में जेल गए बजरंग दल के संयोजक जितेंद्र प्रताप जीतू आदि के परिजनों से मुलाकात की।

गिरफ्तार हिंदू नेताओं के पक्ष में उतरे केंद्रीय मंत्री ने एक सवाल के जवाब में कहा कि सरकार में रहकर भी कुछ नहीं कर पाने की विवशता है। उन्होंने कहा कि सरकार का काम निष्पक्ष होकर काम करना है। जेल में बंद विहिप के जिला मंत्री कैलाश विश्वकर्मा के परिजनों से मुलाकात के दौरान उनकी आँखों से आंसू छलक पड़ा।
बाइट गिरिराज सिंह

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram