ताजिया जुलूस निकालने गए लोगों पर बरसा करंट का कहर

कल मोहर्रम के अवसर पर बिहार के वैशाली जिला में एक हादसा हो गया जिसके बाद 15 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। दरअसल, मोहर्रम के अवसर पर वैशाली जिले के महुआ क्षेत्र पर ताजिया जुलूस निकालने गए लोग करंट की चपेट में आ गए और उनमें से 15 लोगों की मौके पर मौत हो गई।

ताजिया निकालने के लोगों पर गिरा करंट का कहर-

मोहर्रम के मौके पर कल ताजी निकालने गए लोगों पर करंट गिराया अपना कहर और चपेट में लिया 15 लोगों को। जिसके बाद घायलों की तबीयत का जायजा लेने पहुंचे पूर्व खेल और सांस्कृतिक मंत्री शिवचंद्र राम महुआ। वहां पहुंचकर उन्होंने घायलों से मुलाकात कर उनकी स्थिति की जानकारी ली। बता दें हरपुर कुश्ती पंचायत में शुक्रवार देर शाम ताजिया जुलूस के दौरान कुछ लोग करंट की चपेट में आ गए। वहां मौजूद लोगों ने आनन-फानन में घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया। इस दौरान पूर्व मंत्री ने घायलों को हर संभव सहायता देने का आश्वासन दिया। इस बड़े हादसे के बाद यह तो तय था कि विपक्षी दल की पार्टिया नीतीश कुमार पर कंज तो जरूर ही करेंगे। इसी कड़ी में, पूर्व मंत्री ने नीतीश सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि सरकार की गलत नीतियों से आम लोगों को खामियाजा भुगतना पड़ रहा है। विद्युत विभाग के लापरवाही के कारण यह हादसा हुआ है। लेकिन सरकार चुप बैठी है ऐसे में उन्होंने विद्युत विभाग से घायल लोगों को उचित मुआवजा देने की मांग की है।

अब इस हादसे के बाद बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कोई भी जवाब नहीं दिया है इस मुद्दे पर उन्होंने अपनी चुप्पी साध रखी है, लेकिन यहां तो तय है कि विपक्षी दल की पार्टियां उनको इतना देर चुप नहीं रहने देंगे उन्हें कोई ना कोई तो जवाब देना ही पड़ेगा और जहां तक मुआवजा की बात है तो वह तो नीतीश ही तय कर पाएंगे।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram