धानुकों को अनुसूचित जाति में शामिल करने की उठी मांग

अखिल भारतीय धानुक उत्थान महासंघ बिहार प्रदेश के राज्य कार्यकारिणी के सभी सदस्यों ने आज गाँधी संग्रहालय पटना में पुरे बिहार से कार्यकर्ता एवं पदाधिकारियों की चिंतन बैठक बुलाई थी, जिसमे अतिपिछडे समाज के अंतिम पायदान पर खड़े धानुक समाज को अनुसूचित जनजाति में शामिल करने हेतु आन्दोलन करने का निर्णय लिया गया | मौके पर सभी सदस्यों एवं समाज के बुद्धिजीवी, राजनितीक एवं सामाजिक कार्यकर्ताओं ने बताया की बिहार सरकार के मुखिया श्री नितीश कुमार हम धानुकों के वोट से हर बार चुनकर सदन में जाते हैं परन्तु शैक्षणिक, आर्थिक एवं सामाजिक रूप से पिछड़े इस जाती के उत्थान के लिए काम नहीं कर रहे | संगठन के प्रदेश महासचिव ने कहा कि हम अपनी मांग को मनवाने के लिए धरना-प्रदर्शन एवं चक्का जाम हर कार्य को करने के लिए तत्पर है | इसके साथ ही धानुक जाति के शहीद रामफल मंडल को सम्मान देने की मांग भी संगठन के द्वारा जोर-शोर से उठाई गई | बैठक में डॉ. बिन्देश्वर मंडल राज्य उपाध्यक्ष, डॉ. जयदेव मंडल, अध्यक्ष मधुबनी अनिल कुमार प्रदेश प्रवक्ता, विनोद बिहार, मंडल सीतामढ़ी सहित कई लोगों ने अपने विचार व्यक्त किये |

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram