‘पटना मैराथन 2017’ का आयोजन 17 दिसम्बर को

पटना मैराथन 2017

वर्तमान समय में भाग-दौड़ की इस जिंदगी में इंसान सच मे दौड़ के साथ इसके स्वास्थ्य पर सकारात्मक पर ही को ही भूल गया है, बिहार ऐसे प्रदेश में इस प्रकार की कोई पहल भी नही की लोग इसका हिस्सा बने। किन्तु ‘बदलते समय के साथ बदलेगा पटना’ की सोच के साथ एक मैराथन का आयोजन अगले माह में आयोजित किया जाएगा, जिसमे दौड़ के लिए यहाँ के लोगो को जागरूक किया जाएगा, उम्र और लिंग की कोई बाध्यता नही होगी।

यूं तो ‘मैराथन’ शब्द और लम्बी दौड़ एक दुसरे के पर्यायवाची है पर जब इसकी शुरुआत एक नए तेवर और कलेवर के साथ हो तो मजा दो गुणा हो जाता है| जी हाँ बात कर रहे है पटना मैराथन 2017 की, जो न सिर्फ कई मामलो में पहला है बल्कि अपने आप में अनूठा भी है, क्योकि यह सभी उम्र वर्गों के लिए है, क्या बच्चे, क्या बूढ़े, या जवान, स्त्री हो या पुरुष सबों के लिए नए अनुभव को लेकर आया है। आगामी 17 दिसम्बर 2017(रविवार) को होने वाले इस कार्यक्रम को आयोजित कर रही संस्था के जनसंपर्क भागीदार ‘बोबीज ग्रुप’ के मृणाल किशोर ने बताया की बम्बई की कंपनी ‘इलामाइ इंटरप्राइजेज’ एवं ‘प्रोटोन स्पोर्ट्स’ बंगलोर के संयुक्त तत्वधान में इसे नवायोजित किया जा रहा है। उन्होंने बताया की तीन भागो में आयोजित इस हाफ मैराथन को क्रमशः 4 KM, 10 KM एवं 21 KM में बांटा गया है, जिसके लिए सभी निम्बंधित प्रतिभागी धावको को टी-शर्ट, बैग एवं फिनिशर मेडल प्रदान की जाएगी। सभी संवर्ग को मिला कर इनाम की राशी 10 लाख रखी गई है। इस आयोजन के रेस निदेशक श्री धर्मेन्द्र कुमार 101 KM की दुरी, नालंदा विश्वविध्यालय से पटना गाँधी मैदान तक दौड़ कर धावकों का हौसला अफजाई करेंगे।

अरूर पढ़ें-वृंदावन जो प्रेम की नगरी है, और यहाँ महिलाएं बिना प्रेम के रहने को मजबूर हैं।

पटना मैराथन 2017 से संबंधित जानकारी के लिए ‘आज का रिपोर्टर‘ के साथ बने रहे। तो चलिए इस ‘पटना मैराथन 2017’ को सफल बनाते हुए दिखा दे कि हम बिहारवासी भी किसी से कम नही है।

ये भी पढ़ें-बिहार की शिक्षा व्यवस्था के ‘लोटा युग’ में आपका स्वागत है

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram