बिहार दिवस- 2018, जाने क्या है खास

बिहार दिवस- 2018

आज 22 मार्च से पटना गांधी मैदान में बिहार दिवस की त्रिदिवसीय समारोह की शुरुआत हो जाएगी। बिहार दिवस के अवसर पर सांय 4:30 चंपारण सत्याग्रह शताब्दी 2017-18 का समापन समारोह में मुख्य अतिथि उपराष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडू, विशिष्ट अतिथि राज्यपाल श्री सत्यपाल मालिक उपस्थित होंगे। समारोह की अध्यक्षता मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार करेंगे। इस समारोह में सम्मानित अतिथि के रूप में उप-मुख्यमंत्री श्री सुशील कुमार मोदीशिक्षा मंत्री श्री कृष्णनंदन प्रसाद वर्मा भी उपस्थित होंगे।

इस वर्ष बिहार दिवस समारोह में जहां मुख्य मंच पर चंपारण शताब्दी समारोह से जुड़ी चीजे, राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के विचारों के साथ बाल-विवाह व दहेज उन्मूलन संदेश दिया जाएगा। समारोह का मुख्य आकर्षण लेज़र शो होगा जिसमें इस बार चंपारण सत्यग्रह आंदोलन को दिखाया जाएगा, पिछले कुछ वर्षों से बिहार दिवस के अवसर पर लेजर शो के माध्यम से बिहार से जुड़ी चीज़ों को दिखाया जाता रहा है।

इस त्रिदिवसीय समारोह में प्रत्येक दिन संध्या में राज्यगीत एवं वैष्णव जन तो तेने कहिए…, बिहार गौरव गान(नृत्य नाटिका) का मंचन किया जाएगा। उसके बाद लेज़र शो कार्यक्रम होगा। तदुपरांत विभिन्न संस्थानों द्वारा सांस्कृतिक प्रस्तुति दी जाएगी।

‎प्रत्येक दिन प्रातः 9 बजे से सायं 4 बजे तक शास्त्रीय संगीत, नृत्य, लोकगीत एवं अन्य विधाओं के विख्यात बिहारी कलाकारों की प्रस्तुति होगी। बिहार सरकार के विभिन्न विभागों द्वारा पवेलियन स्टाल के माध्यम से प्रदर्शनी एवं गतिविधियों का आयोजन किया जाना है जिनमे कृषि, श्रम एवं नियोजन, उधोग, पर्यटन, कॉम्फेड, बिहार माध्यमिक शिक्षा परिषद, जननी, बिजली, जीविका, बिहार इंडस्ट्रीज एसोसिएशन, मत्स्य, पटना जी.पी.ओ., इग्नू, समाज कल्याण, वाणिज्यकर आदि विभाग प्रमुख है। प्रत्येक दिन नुक्कड़ नाटक का आयोजन गांधी मैदान के मध्य बने पंडाल में किया जाएगा। कला एवं चित्र प्रदर्शनी भी इस समारोह की शान बढ़ाएंगी।

ये भी पढ़ें-Super30 के आनंद कुमार कि एक आंख खोलने वाली, अभी तक अनकही-अनसुनी, एकदम भिन्न कहानी हमारी जुबानी

गांधी मैदान के साथ-साथ श्रीकृष्ण मेमोरियल हॉल में भी 22 एवं 23 मार्च को कार्यक्रम आयोजित किये गए है।
कार्यक्रम का समापन 24 मार्च को किया जाएगा। उस दिन सांय 5:30 से 7:10 तक समापन कार्यक्रम होगा। उसके पश्चात सांय 7:10 से लेकर 7:50 तक राज्यगीत एवं वैष्णव जन तो तेने कहिए… बिहार गौरव गान(नृत्य नाटिका) का मंचन किया जाएगा। 7:50 से लेकर 8:20 तक लेज़र शो चलेगा। तदोपरांत सांय 8:20 से 9:30 तक शुभा मुदगल का गायन होगा।

आइए इस बार बिहार स्थापना के 106वें वर्षगाँठ एवं चंपारण सत्यग्रह शताब्दी 2017-18 को यादगार बनाने हेतु सहभागी बने।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram