बिहार: एससी एसटी एक्ट के विरोध पर पुलिस ने बरसाई सवर्ण पर जमकर लाठियां

बिहार की राजधानी पटना में एससी एसटी एक्ट को लेकर लगातार विरोध प्रदर्शन जारी है और आज सड़कों पर उतरे सवर्ण एकता मंच के लोगों पर पुलिस ने जमकर लाठियां बरसाई जिससे कई लोग घायल हो गए हैं। दरअसल, सवर्ण एकता मंच के सदस्यों ने मुख्यमंत्री आवास का घेराव करने की कोशिश की जिसके बाद भीड़ को हटाने के लिए पुलिस ने जमकर लाठियां भांजी जिसमें कई लोग घायल हो गए हैं।

पुलिस ने बरसाई जमकर लाठियां-

भूमिहार ब्राह्मण एकता मंच के बैनर तले सवर्ण सेना एसएसी-एसटी एक्ट के खिलाफ शुक्रवार को राजधानी पटना की सड़कों पर उतरी। सवर्ण सेना के कार्यकर्ता शुक्रवार को गांधी मैदान में जुटे रहे। यहां से वह मुख्यमंत्री आवास का घेराव करने के लिए हाथों में बैनर-पोस्टर लेकर रवाना हो गए। जिसके बाद  प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए पुलिस ने मौर्यालोक के पास बैरिकेड्स लगा कर रोकने की कोशिश की, लेकिन जब लोगों ने रुकने का विरोध किया और पुलिस से जमकर झड़प भी की।  तब पुलिस ने मजबूरन उन पर लाठी बरसाने का फैसला लिया उसके बाद पुलिस ने प्रदर्शनकारियों के ऊपर जमकर लाठियां बरसाई। इस लाठीचार्ज में कई प्रदर्शनकारियों को अच्छी-खासी चोट लगी है। किसी के सर फूटे हैं तो किसी के हाथ पैर। वहीं, पुलिस की लाठी चार्ज करने के बाद सियासत भी अब गर्म हो गई है और विवादों का खेल शुरू हो गया है। इसी कड़ी में भूमिहार ब्राहमण एकता मंच के अध्यक्ष आशुतोष कुमार ने आरोप लगाते हुए कहा कि एक खास जाति को टारगेट कर देश भर में उसकी एकता को तोड़ने की कोशिश की जा रही है, उसे हम होने नहीं देंगे। चरणबद्ध तरीके से आंदोलन तब तक जारी रहेगा जब तक देश में जातिगत आरक्षण खत्म नहीं की जाती है। उन्होंने कहा कि आज के दौर में भूमिहार ब्राह्मण अल्पसंख्यक हो गए हैं।

अब देखना यह है कि पुलिस के द्वारा किए गए इस लाठीचार्ज पर सियासत कहां तक और बढ़ती है और विरोधी पार्टियां एक-दूसरे पर कैसे-कैसे तंज कसते हैं और क्या-क्या आरोप लगाते हैं।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram