भारतीय जैव विविधता के लिए महत्वपूर्ण खोज, काला तेंदुआ हुआ कैमरे में कैद

छत्तीसगढ़ के उदंती- सीतानदी टाइगर रिजर्व जंगलों में पहली बार विलुप्त हो चुके काले तेंदुए को कैमरा में कैद किया गया है। चीन, जावा और अफ्रीका में ज्यादा संख्या में मिलने वाले काले तेंदुए को हिंदुस्तान में बेहद कम देखा जाता हैं। छत्तीसगढ़ के जंगलों में भी इनके देखे जाने आशंका पहले की गई थी। लेकिन पहली बार इन काले तेंदुओं की उदंती के टीम द्वारा जंगल में छिपे कैमरों से तस्वीरें निकाले गयी हैं, ये तस्वीरें पिछले वर्ष ही ली गई थी।

गरियाबंद जिले के बीच उदांति-सीतानदी बाघ रिजर्व 1,842.54 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ है। इतने बड़े वर्गकिमी में फैले जंगल में 588 वर्गकिमी में की गई कैमरा ट्रैपिंग की आधार पर काले तेंदुए को ढूंढना अंधेरे में बहुत मुश्किल था। तकरीबन 24 साल पहले एक आइएफएस अधिकारी ने उदंती में काला तेंदुआ होने की बात कही थी। इसके बाद दो वर्ष पूर्व अचानक एक काली मादी और उसके दो शावकों को देखे जाने की बात कही जा रही थी, लेकिन उसका कोई वैज्ञानिक रिकॉर्ड नहीं था। इसलिए 80 दिनों के लिए 588 वर्गकिमी क्षेत्र में तकरीबन 200 कैमरे तीन ब्लाकों में लगा दिए गए। दिन-रात, ये हाईडिफनिशन कैमरे जंगल में हो रही छोटी-सी-छोटी गतिविधि को रिकार्ड करते जा रहे थे और फिर एक रोज कैमरे ने एक अकेले गुजरते काले तेंदुए का फोटो खींचा।

काले तेंदुए घने और नमी वाले जंगलों में ही ज्यादातर मिलते हैं, लेकिन यह जरूरी है, कि जंगल के खाद्य चक्रों को सुरक्षित रखते हुए उनके संरक्षण के लिये उपाय किए जाएं। काले तेंदुओं की कोई विशेष प्रजाति नहीं होती, बल्कि जीन्स की म्यूटेशन की वजह से उनका रंग अचानक ऐसा हो जाता है।

छत्तीसगढ़ के अतिरिक्त प्रधान मुख्य वन संरक्षक के.सी. यादव ने बताया, कि यह जैव विविधता के दृष्टिकोण के हिसाब से बेहद महत्वपूर्ण बात है। उदंती सीतानदी टाइगर रिजर्व के जियोग्राफिकल इन्फार्मेशन सेंटर जियोलाजिस्ट और प्रोग्राम कोआर्डिनेटर अमीनुद्दीन रजा ने बताया, कि हमारी यह खोज महत्वपूर्ण है। सेंट्रल इंडिया में पहली बार काले तेंदुए के किसी जंगल में होने के वैज्ञानिक साक्ष्य मिले हैं। ब्लैक पैंथर्स को पहले कबीनी वन्यजीव अभयारण्य, दांदेली वन्यजीव अभयारण्य, भाद्र वन्यजीव अभयारण्य और शरवथी वन्यजीव अभयारण्य में रहने के लिए कहा गया था।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram