महाराष्ट्र के रायगढ़ ज़िले के पोलादपुर के पास बड़ा सड़क हादसा, 33 लोगों की मौत

महाराष्ट्र के रायगढ़ ज़िले के पोलादपुर के पास बड़ा सड़क हादसा हुआ है. इस भयानक हादसे में एक बस पोलादपुर शहर के निकट अम्बेनाली घाट में 500 फुट गहरी एक खाई में गिर गयी जिसके कारण 33 लोगों की मौत हो चुकी हैं. बचनेवाले एकमात्र भाग्यशाली शख्स का नाम प्रकाश सावंत है. फिलहाल हादसे की वजह साफ नहीं हो पाई है. वहीं, राहत और बचाव कार्य शुरू कर दिया गया है. पुणे से एनडीआरएफ बचाव दल घटना स्थल पर पहुंच गया है. ग्रामीण भी उनकी मदद कर रहे हैं. घाट के इलाके में बारिश के कारण बचाव कार्य में दिक्कतें आ रही हैं, रोशनी कम है और खाई की गहराई ज्यादा होने की वजह से राहत और बचाव कार्य में दिक्कत आ रही है.

जिला क्लेक्टर विजय सूर्यवंशी ने बताया कि बस कोंकण क्षेत्र में एक कृषि विश्वविद्यालय के 34 कर्मचारियों को लेकर जा रही थी. साथ ही पुलिस अधीक्षक अनिल परास्कर ने बताया कि यात्री पिकनिक के लिए सतारा जिले में स्थित पर्यटन स्थल महाबलेश्वर की ओर जा रहे थे. उसी समय बस चालक ने एक मोड़ पर वाहन से अपना नियंत्रण खो दिया और यह खाई में जा गिरी. वहीं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक संजय पाटिल ने बताया कि दुर्घटनाग्रस्त बस से शवों को निकालने के लिए घटनास्थल पर एनडीआरएफ की एक टीम को बुलाया गया है. एक दर्जन एम्बुलेंस और 15 डॉक्टर भी घटनास्थल पर पहुंच गये हैं.

हालांकि रायगढ़ हादसे में इकलौते बचे प्रकाश सावंत ने मीडिया को बताया, कीचड़ और पत्थरों के खिसकने की वजह से बस का टायर फिसल गया और ड्राइवर ने नियंत्रण खो दिया, जिसके चलते यह दुर्घटना हो गयी. वह घाटी से सुरक्षित चढ़कर ऊपर आने में सफल रहे और उन्होंने ही घटना की सूचना सुबह 10:30 बजे यूनिवर्सिटी और पुलिस अधिकारियों को दी.

इस हादसे की जानकारी मिलते ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोगों की मौत पर उनके परिजन के प्रति संवेदना प्रकट की. साथ ही महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने भी कहा है कि उन्हें इस दुर्घटना में लोगों की जान जाने से गहरा दुख हुआ है. उन्होंने ट्विटर पर लिखा, ‘‘प्रशासन जरूरी सहायता पहुंचाने के लिए सभी संभव प्रयास कर रहा है. वरिष्ठ अधिकारी एवं आपात प्रबंधन तंत्र इस कार्य में जुट गये हैं.’’

इस हादसे में से कुछ मृतकों की शिनाख्त हो चुकी है, जिनके नाम राजेन्द्र बांडबे, हेमंत सुर्वे, सुनील कदम, रोशन ताबीब, संदीप सुर्वे, प्रमोद जाधव, विनायक सावंत, गोरखानाथ टोड, दत्ताराम धागे, रत्नाकर पागड़े, प्रमोद शिगवान, संतोष जलगांवकर, शिवदास अग्रे, सचिन घिमणकर, संजय सावंत, राजेंद्र रिस्बड, सुनील सतले, रमेश जाधव, अनिल सावके, संदीप भोसले, विक्रांत शिंदे, सचिन गुजार, पंकज कदम, नीलेश ताम्बे, संतोष जगड़े, राजाराम गावड़े, राजेश सावंत, सचिन जगड़े, रविकिरण साल्वी और सुषय बाल हैं.

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram