महाराष्ट्र सरकार ने मराठी भाषा को बढ़ावा देने के लिए विकिपीडिया से हाथ मिलाने की घोषणा की

मराठी भाषा

भारत अनेकताओं में एकता का देश है, यहाँ की विविधता ही इसकी विशेषता है। विभिन्न लोग, भिन्न-भिन्न भाषाएं, अलग रहन-सहन, इतनी भिन्नताओं के बाद भी “हम एक है” वर्तमान समय इंटरनेट का है और इस इंटरनेट की दुनिया में ‘इंग्लिश’ को वैश्विक भाषा का दर्जा प्राप्त है।

भारत जैसे देश में स्थलीय सीमाओं के साथ भाषाएं बदलती है। उन क्षेत्रीय भाषाओं के बोलनेवाले-समझनेवाले सीमित होते है, इसी सीमा को विस्तार देने के लिए सरकार द्वारा पहल की जाती है। ऐसी ही एक पहल महाराष्ट्र सरकार ने ‘मराठी’ भाषा को वैश्विक स्तर पर बढ़ावा देने के लिए की है और इसके लिए ‘मराठी भाषा दिवस’ के अवसर पर विश्वकोश ‘विकिपीडिया’ से हाथ मिलाने की धोषणा भी की है। इस कदम से मराठी बोलने वाले लोगों को विदेशों में बसने वाले महाराष्ट्रीयनों तक पहुंचने ले लिए एक मंच बनाना है। इससे लोग अपनी मूल भाषा से लगाव महसूस करेंगे और अपने पेशे के बारे में अपनी मूल भाषा में लिखने के लिए प्रोत्साहित होंगे।

यह एक सराहनीय कदम है, इससे लोग अपनी जड़ों से जुड़े भी रहेंगे और इस प्रकार से मूल क्षेत्रीय भाषाएं गुम होने से भी बच जाएंगी। इस प्रकार की अनूठी पहल प्रत्येक राज्य को करना चाहिए, मूल भाषायों को लुप्त होने से बचाने का यह सबसे अच्छे उपायों में से एक है।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram