महाराष्ट्र में जन्म के दो मिनट बाद ही एक बच्ची को मिला अपना आधार नामांकन

आधार कार्ड की सुरक्षा को लेकर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हो रही है और तमाम तरह के सवाल उठाए जा रहे हैं। लेकिन इन सबके बीच महाराष्ट्र के बुलढाना के खमगांव में 18 अप्रैल को एक महिला ने बच्ची को जन्म दिया और उसके बाद तुरंत माता-पिता ने अपनी बच्ची के लिए आधार कार्ड का रजिस्ट्रेशन करवा दिया। इस बारे में बिटिया के पिता ने अपने ओर से कहा, की प्रत्येक भारतीय को आधार बनाना चाहिए और इससे अन्य सेवाओं को भी जोड़ना चाहिए। देश में शायद यह पहला मौका होगा जब जन्म के बाद इतने कम समय में किसी बच्ची के आधार कार्ड का रजिस्ट्रेशन कराया गया हो। इस बच्ची को पैदा हुए दो मिनट भी नहीं हुए थे। पैदा होने के बाद जैसे ही उसे मां-बाप की गोद में रखा गया, तभी उसके हाथ में उसका आधार नंबर दे दिया गया। इस नवजात का नाम साची बताया जा रहा है। महाराष्ट्र में ऐसा पहले बार नही हो रहा हैं, इसके पहले महाराष्ट्र के उस्मानाबाद में एक बच्ची को जन्म के छह मिनट के अंदर ही आधार नंबर मिल गया था। बताया जा रहा था कि बच्ची के पिता ने आधार के लिए ऑनलाइन आवेदन दिया था।

(कॉपीराइट ANI)

ऐसा बहुत कम होता है, जब बच्चे या बच्ची के जन्म के कुछ ही देर के बाद इतने कम समय में आधार कार्ड के लिए रजिस्टेशन कराया गया हो। हालांकि, छत्तीसगढ़ में भी एक ऐसा मामला सामने आया था, जहाँ एक ढाई साल के हिमांशु नाम के बच्चे का आधार कार्ड बनवाया था। इस बच्चे को ब्लड कैंसर था। इस बच्चे को इलाज के लिए दो-तीन लाख रुपये की जरुरत थी।

पिछले साल ही UIDAI ने अपने नियमों में ढील दी है। इसके दायरे में पांच वर्ष से कम आयु वर्ग के बच्चों को भी लाया गया है। UIDAI की बेवसाइट के मुताबिक, इससे पहले बच्चों को आधार के लिए पंजीकृत नहीं किया जाता था, क्योंकि 5 साल तक के बच्चों के बायोमेट्रिक डेटा यानी उंगलियों के निशान बदलते रहते हैं, लेकिन पीएम मोदी के निर्देश के बाद नियमों में ढील दी गई है। नए नियमों के मुताबिक, जिनका नाम भी नहीं है वे बच्चे भी आधार के लिए पंजीकरण कर सकते हैं। बायोमेट्रिक डिटेल 6 की उम्र के बाद लिए जा सकते हैं। यूआईडीएआई की वेबसाइट का कहना है कि अगर 5 साल से कम उम्र के बच्चे के लिए आधार कार्ड बनाया जाता है तो इसे माता-पिता के आधार कार्ड से जोड़ा जाएगा। हालांकि, इस तरह के मामले यह दर्शाते हैं, कि देश में अभी भी कई लोग अपने सामाजिक और राजनीतिक अधिकारों के लिए कितने सजग हैं।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram