ग्रेटर नोएडा में निर्माणाधीन 6 मंजिला इमारत गिरी, 3 की मौत 32 लोगों के दबे होने की आशंका

Two buildings in Greater noida collapsed
Two buildings in Greater noida collapsed

निर्माणाधीन पुल, घर, और इमारतों के गिरने का सिलसिला थम नहीं रहा है और एक ऐसी ही दिल दहला देने वाली घटना देश की राजधानी दिल्ली से आ रही है मिली खबर के मुताबिक राजधानी स्थित ग्रेटर नोएडा में  देर रात एक ‘निर्माणाधीन’ 6 मंजिला बिल्डिंग,और एक 4 मंजिला बिल्डिंग ढह गई। जिसमें 3 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि इन दोनों बिल्डिंग के नीचे लगभग 18 परिवार रहते थे। कहा यह भी जा रहा है कि मरने वालों की संख्या में और भी इजा़फा हो सकता है। मौके पर पुलिस और राहत दल बचाव कार्य में जुटे हुए हैं।

छ: मंजिला इमारत भरभरा कर ढह गई – 

ग्रेटर नोएडा के शाबरी इलाके में एक निर्माणाधीन इमारत मौजूद थी लेकिन फिर भी इस छत के नीचे लगभग 3 परिवार रहते थे इन 3 परिवारों के अगर सदस्यों की बात की जाए तो कहा जा रहा है कि 11 से 12 लोग इस इमारत में रह रहे थे वही बिल्डिंग करने के तुरंत बाद ही मौके पर दो लोगों की मौत हो गई जबकि हादसे में कई अन्य लोगों के दबे होने की आशंका जताई जा रही है। जबकि इसी बिल्डिंग से सटी एक दूसरी बिल्डिंग भी ढह गई जिसमें लगभग 20 से 22 लोग रहते थे। और अंदेशा है कि मलबे की चपेट में आए हुए लोग इस हादसे का शिकार हो सकते हैं।  हालांकि इस बिल्डिंग के बिल्डर के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी कर दिया गया है और एडीएम विनीत कुमार ने बताया है कि इस बात का पता लगाया जा सके कि बिल्डर ने सारी अनुमतियां पूरी की थी या नहीं  इसके लिए रेवेन्यू टीम को लगा दिया गया है।

घटनास्थल पर लोगों में इस बात का भी आक्रोश है क्योंकि इस घटना में बचाव कार्य के लिए जब मदद के लिए फोन लगाए जा रहे थे तो ना मौके पर पुलिस पहुंची और ना ही किसी प्रकार की सहायता और राहत कार्य शुरू करने में कम से कम 2 घंटे की देरी हो गई।जिससे घटनास्थल के आसपास के लोगों में काफी आक्रोश था और भीड़ को नियंत्रित करने के लिए कई थानों की फोर्स को बुलाना पड़ा। एनडीआरएफ की टीम मौके पर बचाव कार्य में लगी हुई है और कहा जा रहा है कि बचाव कार्य में लगभग 24 घंटे का वक्त लग सकता है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बचाव कार्य हेतु आला अधिकारियों को निर्देश जारी कर दिए हैं। जबकि गौतम बुद्ध नगर के सांसद एवं केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा ने मौके पर पहुंचकर घटनास्थल का जायजा लिया और उन्होंने बताया कि यहां 12 एंबुलेंस तैनात कर दी गई है और आसपास के सभी अस्पतालों को भी निर्देश जारी कर दिए गए हैं। घटनास्थल पर डॉग स्क्वायड की टीम को भी तैनात किया गया है। राहत कार्य पूरा होने के बाद ही कहा जा सकता है कि इस घटना में कितने लोग हताहत हुए हैं और कितने लोग सुरक्षित बचे हैं।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram