Delhi NCR में दीपावली पे नही बिकेंगे पटाखे, सुप्रीम कोर्ट ने लगाया रोक

दीपावली पे नही बिकेंगे पटाखे

इस बार दीपो का उत्सव ‘दीपावली‘ 19 अक्टूबर को है। यह प्रकाश का पर्व पूरे देश में हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। हम सभी परंपरागत तरीके से अपने घरों को रोशनी और रंगोली से सजाते है, और शाम होते ही आतिशबाजी भी शुरू हो जाती है, किन्तु पिछले साल इसी आतिशबाजी के कारण दिल्ली की आबो हवा में जहर घुल गया था।

एक ही रात में दिल्ली में आतिशबाजी के चलते प्रदूषण का स्तर कई गुना बढ़ गया। जिसकी वजह से राजधानी दिल्ली धुंध की चादर में लिपटी हुई नजर आती थी । आतिशबाजी का असर से पूरी दिल्ली में धुंध के चलते विजिबिलटी काफी कम हो जी थी।
बता दें कि दीवाली की रात को दिल्ली के कई इलाकों में पर्टिकुलेट मैटर यानी पीएम का स्तर काफी बढ़ गया था और राजधानी की हवा में जो जहर घुला था वो हैरान कर देने वाला है, इस समस्या ने सभी मीडिया, सोशल वर्कर, सरकार और सुप्रीम कोर्ट का ध्यान अपनी ओर आकृष्ट किया, सभी ने इसकी गंभीरता को समझा। इसका नतीजा ये हुए की सुप्रीम कोर्ट ने नवंबर 2016 को दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र में पटाखे की बिक्री पर प्रतिबंध लगाया। अब जबकि दीपावली 19 अक्टूबर को है तो सभी के जेहन में पिछले साल की यादें ताज़ी हो गई है। अदालत का आदेश नवंबर 2016 के आदेश की बहाली के लिए एक याचिका पर आया था।
अदालत ने सोमवार को कहा, “हम पटाखे के बिना कम से कम एक दीवाली की कोशिश करें।”

जस्टिस ए के अध्यक्षता वाली पीठ सिक्री ने कहा कि अदालत ने 12 सितंबर के आदेश को अस्थायी रूप से रोक दिया और पटाखे की बिक्री की अनुमति 1 नवंबर से प्रभावी होगी।

जरुर पढ़ें-स्पेनिश फैशन ब्रांड ज़ारा ने खोला ऑनलाइन स्टोर, घर बैठे पाए पूरी विस्तृत फैशन रेंज

दिवाली 19 अक्तूबर को है और आदेश प्रभावी ढंग से लागू है अर्थात इसका मतलब है कि त्योहार से पहले कोई पटाखे खरीद के लिए उपलब्ध नहीं होगा।

11 नवंबर 2016 को सुप्रीम कोर्ट ने सभी आदेशों के निलंबन का आदेश दिया था जिसमें आइस्कर, थोक और रिटेल के बिक्री के लिए एनसीआर के भीतर आगे के आदेश जारी किए गए थे। यह आतिशबाजी के उपयोग पर प्रतिबंध लगाने के लिए कई याचिकाओं पर आधारित था। इसके अलावा, 2016 में दिवाली के बाद वायु प्रदूषण कई गुना अधिक हो गया था।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram