उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने उत्तर प्रदेश बोर्ड परीक्षा के तैयारियों की समीक्षा की

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद (यूपी बोर्ड) की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षा जो कि 6 फरवरी से शुरू होने वाली है, कि तैयारी जोरों पर है। उसी क्रम में बोर्ड की तैयारियों की समीक्षा के लिए उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने कल अपरमुख्य सचिव,सचिव, निदेशक, के साथ सभी जिलों के जिला विद्यालय निरीक्षकों, संयुक्त निदेशकों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से दिशानिर्देश दिए।

राज्य सरकार व बोर्ड के लिए सबसे बड़ी चुनौती परीक्षा में नकल को रोकना है। इस संदर्भ में उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा पहले ही कह चुके हैं कि बोर्ड की परीक्षाएं सीसीटीवी की निगरानी में होगी और बिना कैमरे वाले स्कूलों में परीक्षा केंद्र नहीं बनाए जाएंगे। उन्होंने परीक्षा को नकलविहीन बनाने के कड़े निर्देश भी दिए हैं।

ज्ञात हो कि बोर्ड की हाईस्कूल एवं इंटरमीडिएट की परीक्षाओं का कार्यक्रम अक्टूबर 2017 में ही घोषित किया जा चुका है। हाईस्कूल एवं इंटरमीडिएट की परीक्षाएं 6 फरवरी से शुरू होंगी किन्तु हाईस्कूल की परीक्षा 22 फरवरी एवं इंटरमीडिएट की परीक्षा 10 मार्च को समाप्त होंगी। घोषित कार्यक्रम के अनुसार बोर्ड परीक्षा दो पालियों में सम्पन्न होगा।

बोर्ड परीक्षा 2017-18 के लिए 67,02,483 परीक्षार्थियों का पंजीकरण हुआ है, इनमें से 37,12,508 हाईस्कूल एवं 29,89,975 इंटरमीडिएट के परीक्षार्थी है। जबकि 2016-17 की परीक्षा में हाईस्कूल में 34,01,511 परीक्षार्थी और इंटर की परीक्षा के लिए 26,54,492 परीक्षार्थी पंजीकृत थे।

बोर्ड परीक्षा को नकलविहीन बनाने के लिए कड़े प्रबंध किए गए है। इसे लेकर बोर्ड ने कई बदलाव किए है, इस बार एहतियातन परीक्षा केंद्रों का आवंटन सॉफ्टवेयर से किया गया है। स्कूलों में उपलब्ध संसाधनों के आधार पर स्कूलों को अंक दिए गए हैं। जिस स्कूल में जितने अधिक संसाधन उसको उतने अधिक अंक। प्राप्त अंकों के आधार पर एक सूची तैयार की गयी है और उसके उपरांत परीक्षा केंद्र का निर्धारण किया गया है।

2017-18 की बोर्ड परीक्षा में सादी उत्तर पुस्तिकाओं की हेराफेरी और उनके अनुचित ढंग से प्रयोग किए जाने की संभावना को ध्यान में रखते हुए प्रदेश के 50 संवेदनशील जिलों में क्रमांकित उत्तर पुस्तिकाएं प्रयोग किए जाने की व्यवस्था की गई है। इन जिलों में बलिया, अलीगढ़, मथुरा, आगरा, फिरोजाबाद, शाहजहांपुर, हाथरस, एटा, मैनपुरी, कासगंज, मुज़्ज़फरनगर, गोंद, गाजीपुर, बरेली, फैज़ाबाद, बस्ती, मऊ आदि शामिल है।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram