पासपोर्ट विवाद मामले में एक नया मोड़, तन्वी की जानकारियां झूटी साबित हुई

तन्वी सेठ पासपोर्ट विवाद में एक नया मोड़ आया हैं। पुलिस ने जांच कर के रिपोर्ट पासपोर्ट कार्यालय भेज दि है, जिसमें कुछ नयी बातें सामने आयी है, साथ ही कहा गया हैं की, पासपोर्ट सेवा अधिकारी विकास मिश्रा पर बेजा टिप्पणियां करने का आरोप लगाने वाली आवेदक तन्वी सेठ ने 3 जानकारियां झूटी लिखी हैं और कार्यालय को धोखा दिया हैं और अब वो जानकारी देने के लिए, मीडिया के सामने आने के लिए कतरा रही हैं। जिसके चलते पासपोर्ट कार्यालय से उन्हें इस बात पर स्पष्टीकरण देने की नोटिस भेज दि गयी है और हो सकता है दोनों के पासपोर्ट रद्द कर दिये जाएंगे। विभागीय अफसरों के मुताबिक पासपोर्ट पर झूठी जानकारी देने पर विभाग ₹5,000 तक का जुर्माना भी वसूल सकता है। साथ ही विभाग धोखाधड़ी व गुमराह करने के लिए कानूनी कार्रवाई करते हुए तन्वी के एफआईआर भी दर्ज करवा सकता है।

मालूम हो कि, मोहम्मद अनस और उनकी पत्नी तन्वी सेठ ने आरोप किया था कि, जब वे 20 जून को पासपोर्ट का नवीनीकरण कराने के लिए क्षेत्रीय पासपोर्ट कार्यालय गये थे, तब वहाँ पासपोर्ट सेवा अधिकारी विकास मिश्रा ने अनस से कहा कि, वह हिन्दू धर्म अपना लें। साथ ही उन्होंने तन्वी से सभी दस्तावेजों में अपना नाम बदलने का निर्देश दिया और एक मुस्लिम से शादी करने के लिये उनकी खिंचाई की। जब दोनों ने ऐसा करने से इन्कार कर दिया तो अधिकारी उन पर चिल्लाने लगा। जिसके बाद दोनों ने इस बात की पूरी जानकारी विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को दी। 

पुलिस ने कार्यालय को भेजी रिपोर्ट में कहा गया है की, तन्वी ने 3 जानकारियां झूटी लिखी हैं। पहली, तन्वी सेठ की शादी 10 साल पहले अनस सिद्दीक़ी के साथ हुई थी। उनके निकाहनामे में तन्वी सेठ का नाम सादिया अनस लिखा हुआ है, लेकिन अन्य कागज़ात में उनका नाम तन्वी सेठ है। दूसरी, तन्वी उर्फ सादिया ने खुद को लखनऊ का निवासी बताया, जबकि वह नोएडा के सेक्टर 76 स्थित जेएम अर्चित अपार्टमेंट के फ्लैट नंबर बी-604 में किराए पर रहती हैं। उन्होंने पासपोर्ट आवेदन में रेंटल एग्रीमेंट का जिक्र नहीं किया। साथ ही तन्वी उर्फ सादिया ने गलत बताया कि, वह एक कंपनी के लिए घर पर रहकर काम करती हैं, बल्कि वह नोएडा की आइटी सेक्टर की कंपनी बीटी ग्लोबल बिजनेस सर्विस लि. में वहीं रहकर नियमित रूप से काम करती हैं। इस बीच, मामले की गंभीरता को देखते हुए लखनऊ स्थित पासपोर्ट दफ़्तर के पास सुरक्षा व्यवस्था भी बढ़ा दी गई है। जिसके चलते शुक्रवार को एक दरोगा और एक कांस्टेबल को पासपोर्ट सेवा केंद्र में तैनात किया गया है।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram