पूर्व लोकसभा सोमनाथ चटर्जी का दिल हल्का का दौरा पड़ने से हुआ निधन

पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सोमनाथ चटर्जी का सोमवार सुबह 8.15 बजे दिल का हल्का दौरा पड़ने से निधन हो गया। वे 89 साल के थे। बता दें कि 10 अगस्त को उन्हें गुर्दे की बीमारियों के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था। लेकिन दिल का हल्का दौरा पड़ने के बाद उनकी स्थिति और बिगड़ गई थी। तबीयत बिगड़ने के बाद उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था। हालाकि उनकी हालत स्थिर बताई जा रही थी। 89 साल के सोमनाथ चटर्जी का डायलिसिस हो रहा था तभी उन्हें माइल्ड हार्ट अटैक हुआ। उसके बाद उन्हें ICCU में भर्ती कराया था। बता दें कि वो किडनी की समस्या से भी जूझ रहे थे और उन्हें जून में भी स्ट्रोक आया था जिसके बाद वो एक महीने तक अस्पताल में भर्ती रहे थे।

सोमनाथ चटर्जी ने कोलकाता के प्रेसिडेंसी कॉलेज में पढ़ाई की। बाद में उन्होंने ब्रिटेन में मिडिल टैंपल से लॉ की पढ़ाई करने के बाद कलकत्ता हाईकोर्ट में प्रैक्टिस की। इसके बाद उन्होंने राजनीति में आने का फैसला किया। अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत सोमनाथ चटर्जी ने CPM के साथ 1968 में की और वह 2008 तक इस पार्टी से जुड़े रहे। 1971 में वह पहली बार सांसद चुने गए। वह 10 बार लोकसभा सदस्य के रूप में चुने गए थे। उन्होंने लगभग 35 सालों तक एक सांसद के रूप में देश की सेवा की। इसके लिए उन्हें साल 1996 में उत्कृष्ट सांसद पुरस्कार से नवाजा गया। 10 बार लोकसभा सांसद रहे चटर्जी MKP की केंद्रीय समिति के सदस्य थे। वह 2004 से 2009 के बीच लोकसभा के अध्यक्ष रहे थे। हालांकि उनकी पार्टी के संप्रग-1 सरकार से समर्थन वापस लेने के बाद लोकसभा अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने से उनके इनकार के बाद 2008 में उन्हें MKP से निष्कासित कर दिया गया था। सोमनाथ चटर्जी की धर्मपत्नी श्रीमती रेणु चटर्जी थीं जिनसे उन्हें एक पुत्र और दो पुत्रियां हैं।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram