ब्लू व्हेल गेम के बाद अब मोमो चैलेंज बना जानलेवा

आज स्मार्टफोन की दुनिया इतनी प्रसिद्ध हो गई है कि जो भी व्यक्ति इस दुनिया में जाता है उसका वापस आने का मन नहीं करता। हमारे कहने का मतलब यह है कि आज लोग बाहर की दुनिया से ज्यादा अपने मोबाइल में समय बिताना ज्यादा पसंद करते हैं। लेकिन अब धीरे धीरे या फायदे से ज्यादा जानलेवा हो गया है। आप सब ने सोशल मीडिया पर ब्लू व्हेल गेम के बारे में तो सुना ही होगा और अब मोमो चैलेंज भी लोगों की जान लेने पर उतारू हो गया है।

क्या है यह मोमो चैलेंज –

मोमो चैलेंज एक ऐसा चैलेंज गेम है जिसमें यूजर को एक नंबर दिया जाता है, जिसे यूजर को सेव करना होता है और हाय-हेलो करने का चैलेंज दिया जाता है। इस नंबर का एरिया कोड जापान का है। कुछ चैलेंज देने के बाद उस नंबर पर डरावनी तस्वीरें आना शुरू हो जाती हैं और कुछ नए चैलेंज भी, जिसे पूरा ना करने पर यूजर को धमकी दी जाती है और खुदकुशी करने पर मजबूर कर दिया जाता है।

मोमो चैलेंज से बच्ची ने की खुदखुशी –

पिछले दिनों अर्जेंटीना से यह खबर आई कि 12 साल की बच्ची ने इस मोमो चैलेंज के चलते खुदकुशी कर ली थी। इस बच्ची ने खुदकुशी करने से पहले एक वीडियो रिकॉर्ड किया था। जब पुलिस ने इस वारदात पर अपनी छानबीन शुरू की तो यह पाया कि इस बच्ची को खुदकुशी करने के लिए उकसाया गया था। इस मामले में पुलिस का कहना है कि बच्ची का मोबाइल हैक किया गया था और पुलिस उस हैकर की तलाश में जुटी है। इससे पहले 2016 में ब्लू व्हेल गेम ने पूरी दुनिया पर तहलका मचा कर रखा था। दुनिया भर से इस गेम के जरिए कई बच्चों ने अपनी जान गवाई थी।

हमारे देश भारत में फिलहाल यह मोमो चैलेंज अभी नहीं आया है, लेकिन सोशल मीडिया से इसको वायरल होने में कितना समय लगेगा?  इसलिए माता-पिता को अपने बच्चों को इस तरह के गेम से दूर रखना होगा और उन्हें बचाना होगा। अपने बच्चों को यह समझाइए कि कोई भी अज्ञात नंबर अपने फोन पर एक्टिवेट ना करें और उस नंबर से बातचीत ना करें।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram