ऑस्ट्रेलिया की अब तक की सबसे बड़ी वनडे हार पर शेन वार्न की खरी-खरी

पिछले कुछ महीनों में ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट प्रशंसक होना आसान नहीं रहा है। यद्यपि यह वर्ष ऑस्ट्रेलियाई लोगों के लिए एक उज्ज्वल नोट पर शुरू हुआ क्योंकि उन्होंने घर पर एशेज 4-0 से जीता था, तब से, ही चीज़ें इस कदर बिगड़ी हैं कि टीम का पतन शुरू हो चुका है जिससे वह निचले से निचले स्थान तक खिसकता जा रहा है|

क्रिकेट के हालिया इतिहास में ऑस्ट्रेलिया को सबसे खराब अपवाद से दो चार होना पड़ा था जब कप्तान स्टीव स्मिथ, उनके डिप्टी डेविड वार्नर और शुरुआती बल्लेबाज कैमरून बैंक्रॉफ्ट को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ केप टाउन टेस्ट के तीसरे दिन गेंद से छेड़छाड़ यानी बॉल टैंपरिंग में शामिल होने के लिए लंबे प्रतिबंध लगाए गए जो अभी भी जारी है। डैरेन लेहमन ने मुख्य कोच के रूप में पद छोड़ दिया और उन्हें जस्टिन लैंगर द्वारा प्रतिस्थापित किया गया।

विकेटकीपर टिम पेन को टेस्ट और वनडे में टीम की अगुवाई करने की ज़िम्मेदारी दी गई है| मंगलवार को ऑस्ट्रेलिया ने अपनी हालिया आपदाजनक यात्रा में एक और झटका देखा क्योंकि कड़े प्रतिद्वंद्वी इंग्लैंड ने ट्रेंट ब्रिज में खेले तीसरे एक दिवसीय मैच में 242 रनों के पारवती अंतर से उसे हरा डाला और पांच मैचों की सीरीज़ में  3-0 की अजय बढ़त बना ली।

वार्ने की खरी-खरी 

दिग्गज स्पिनर शेन वॉर्न और पूर्व कप्तान माइकल क्लार्क को ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट की इस दयनीय स्थिति ने अचंभे में डाल दिया| दोनों पूर्व क्रिकेटरो ने ट्विटर के माध्यम से अपने अंदर व्याप्त बेचैनी को साझा किया जिसमें वॉर्न ने एक कदम आगे जाकर टीम को अपने ही व्यंगणात्मक शैली में खरी-खरी सुना डाली|

उन्होंने ट्वीट किया –

“बस जाग गया और इंग्लैंड में स्कोर देखा। वहां क्या बकवास हुआ और लड़कों में आखिर चल क्या रहा है?  गुलप (घूंट)…..”, वॉर्न ने ट्वीट किया|

उनका प्रतिउत्तर देते हुए माइकल क्लार्क़े ने उन्हें गुड मॉर्निंग ट्वीट किया|

पहले बल्लेबाजी करते हुए इंग्लैंड ने 481/6 रन बनाए, जो अब तक का सबसे ज्यादा ओडीआई स्कोर है। जॉनी बेयरस्टो (139) और एलेक्स हेल्स (147) के शतकों के साथ ही ईइन मॉर्गन की 21 गेंदों पर बनाये अर्धशतक ने उन्हें दो साल पहले पाकिस्तान के खिलाफ उसी स्थान पर बनाये 444/3 रन के स्कोर के पार जाने में मदद की। तब ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाज , बल्लेबाजी करने में नाकाम रहे। अच्छी बल्लेबाजी पिच पर, वे 37 ओवर में 239 रन पर ही आउट हो गए। ट्रेविस हेड को छोड़कर, जिन्होंने 51 रन बनाए, कोई भी अन्य बल्लेबाज़ अच्छी लड़ाई नहीं कर सका| इस हार के साथ, ऑस्ट्रेलिया अब 41 साल में पहली बार इंग्लैंड के खिलाफ ओडीआई श्रृंखला हार गया है। 242 रनों की हार भी उसकी ओडीआई में अबतक की सबसे बड़ी हार है|

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram