तीसरी बार चैम्पियंस लीग का खिताब जीतकर फिरसे चैंपियन बना रियाल मेड्रिड

यूरोप की सबसे प्रतिष्ठित मानी जाने वाले य़ूएफा चैंपियंस लीग को रीयाल मेड्रिड ने जीत लिया है। यूक्रेन के शहर कीव में खेले गए फाइनल में मुकाबले में रीयील मेड्रिड ने ब्रिटिश क्लब लिवरपूल को 3-1 से मात देकर खिताबी जीत दर्ज की है।

गेरेथ बेल ने किये शानदार गोल के दम पर रियल मैड्रिड ने लगातार तीसरी बार चैम्पियंस लीग का खिताब अपने नाम कर लिया है। लिवरपूल को गोलकीपर की गलतियों का खामियाजा भुगतना पड़ा। लिवरपूल के गोलकीपर लोरिस कारियोस की तरफ से लगातार दो गोल अपने हाथों के अंदर से जाने दिए और रियल मैड्रिड ने आसानी से ये हिस्टोरिकल मैच अपने नाम कर लिया।

लिवरपूल के लिए सबसे मुश्किल बात यह रही कि, उसके स्टार खिलाड़ी मोहम्मद सालेह खेल के 30 वें मिनट में ही कंधे में लगी चोट के कारण मैदान से बाहर जाना पड़ा और उनकी टीम इस झटके से उबर नहीं सकी। हालांकि, फर्स्ट हाफ खत्म होने तक दोनों टीमें एक भी गोल नहीं कर सकी थीं। सलाह के बाद रियल के डानी कार्वाहल भी हैमस्ट्रिंग इंजरी के कारण 35वें मिनट में मैदान से बाहर चले गए। उसके बाद 43वें मिनट में करीम बेजिंमा ने रियल के लिए गोल कर दिया, लेकिन रेफरी ऑफ साइड घोषित कर दिया गया। मैच का पहला गोल 51वें मिनट में रियल मैड्रिड की ओर से हुआ। फाइनल मैच का टर्निंग प्वॉइंट भी यही गोल रहा। इसके बाद 55वें मिनट में साडियो मेन ने लिवरपूल को 1-1 की बराबरी पर ला खड़ा किया। इसके बाद गैरेथ बेल के शानदार किक से रियल मैड्रिड को 2-1 की बढ़त मिल गई। 83वें मिनट में बेल ने एक और गोल कर रियल मैड्रिड को 3-1 से आगे कर दिया और मैच का रुख अपने ओर कर दिया। कोच जिनेदिन जिदान की टीम ने इस मुकाबले को शुरू से लेकर अंत तक अपने काबू में रखा और लिवरपूल को कहीं भी हावी होने का मौका नहीं दिया। मुकाबले से से पहले बम की अफवाह के बाद पांच स्टेशनों को कई घंटों तक बंद कर दिया गया था जिसे अब फिर से खोल दिया गया है।

सलाह हुए चोटिल

मैच के पहले हाफ में लिवरपूल के लिए सर्वाधिक गोल करने वाले मिस्र के स्ट्राइकर मोहम्मद सलाह चोटिल हो गए। उनके चोटिल होते ही लिवरपूल के प्रशंसकों में मायूसी की लहार छा गई। इस साल वह लिवरपूल के लिए 44 गोल कर चुके हैं। इसके साथ ही वह इस साल गोल्डन boot की दावेदारी में लिओनेल मेस्सी और क्रिस्टिआनो रोनाल्डो को टक्कर दे रहे हैं। सलाह के बाहर जाते ही लिवरपूल के प्रदर्शन में कमी दिखी।

मैच से पहले बम की अफवाह

शनिवार को एक अज्ञात फोन आया कि, डनिप्रो, हाइड्रोपार्क, लिवोबेरेझना, अर्सेनाल्ना और हीरोव डनिप्रो स्टेशन पर बम रखा गया है, लेकिन उन स्टेशनों पर कोई बम नहीं पाया गया है।

इस जीत के साथ रियल मेड्रिड वो पहली टीम बन गई है जिसने लगातार तीसरी बार खिताब पर कब्जा किया है। तो वहीं टीम के कोच जिनेडिन जिडान पहले ऐसे कोच बन गए हैं जिनके नेतृत्व में टीम ने लगातार तीसरी बार खिताब पर अपना कब्जा जमाया है।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram